मंत्री की सिफारिश न PS का रिमाइंडर मानने को तैयार सागर के कलेक्टर

On Date : 01 February, 2017, 2:59 PM
0 Comments
Share |

अपने विभाग का काम गृहनगर में करवाने में बौने साबित हो रहे मंत्री
प्रशासनिक संवाददाता, भोपाल
मध्यप्रदेश में ब्यूरोक्रेसी इस समय नेताओं और मंत्रियों पर किस कदर हावी है इसकी एक बानगी सागर में देखने को मिली। प्रदेश के सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण मंत्री गोपाल भार्गव अपने विधानसभा क्षेत्र गढ़ाकोटा में अपने ही विभाग के अंतर्गत एक वृद्धाश्रम बनवाना चाहते है लेकिन सागर कलेक्टर विकास नरवाल पिछले दो माह से इसके लिए प्रस्ताव ही नहीं भेज रहे है।
सामाजिक न्याय विभाग प्रदेशभर में वृद्ध, नि:शक्तजनों के लिए तरह-तरह की योजनाएं संचालित करता है। मंत्री गोपाल भार्गव अपने विधानसभा क्षेत्र गढ़ाकोटा के रामबाग क्षेत्र में एक ऐसा आदर्श वृद्धाश्रम शुरु करवाना चाहते है जिसका संचालन शासकीय स्तर पर नगरीय निकाय करे और वहां वृद्धों के लिए सभी मूलभूत सुविधाएं हो। भार्गव चाहते है कि उनके क्षेत्र में बनने वाला यह वृद्धाश्रम प्रदेश का आदर्श वृद्धाश्रम हो। यहां वृद्धों के रहने- खाने का तो इंतजाम हो ही साथ ही वृद्धावस्था में बुजुर्गो को स्वस्थ रखने और तरह-तरह की बीमारियों से उनके बचाव के लिए पर्याप्त संख्या में विशेषज्ञ चिकित्सकों की सेवाएं उपलब्ध हो। लेकिन उनके इस स्वप्न को कलेक्टर विकास नरवाल पलीता लगा रहे हैं। उन्होंने इस प्रस्ताव को डंप कर दिया है। मंत्री और पीएस के कहने के बाद भी वे इसे आगे नहीं बढ़ा रहे हैं।

मंत्रीजी के निर्देश पर दो दिन पहले भी सागर कलेक्टर को याद दिलाया गया था कि मंत्रीजी चाहते है कि गढ़ाकोटा में वृद्धाश्रम बनाए जाने का प्रस्ताव जिला स्तर पर तैयार करवा कर जल्दी भेजे। लेकिन वहां से अब तक कोई प्रस्ताव नहीं आया है।
बीके बाथम, प्रमुख सचिव सामाजिक न्याय विभाग

मै चाहता हूं कि गढ़ाकोटा में प्रदेश का आदर्श वृद्धाश्रम शुरु किया जाए इसके लिए सागर कलेक्टर को दो माह पहले प्रस्ताव भेजने के निर्देश दिए थे लेकिन कलेक्टर कमजोर है, इतने समय में भी वे कोई प्रस्ताव बनाकर नहीं भिजवा पाए है।
-गोपाल भार्गव, सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण मंत्री

दो माह पहले दिए थे निर्देश
मंत्री गोपाल भार्गव की ओर से दो माह पहले सागर कलेक्टर विकास नरवाल को इस संबंध में निर्देश दिए गए थे। मंत्री ने उन्हें रामबाग में किसी मौके की जगह पर सरकारी इमारत में वृद्धाश्रम शुरु करने का प्रस्ताव भेजने को कहा था। लेकिन मंत्री के निर्देश को कलेक्टर तवज्जो ही नहीं दे रहे है। अब तक उन्होंने कोई प्रस्ताव तैयार करके सामाजिक न्याय विभाग को नहीं भेजा है। सामाजिक न्याय विभाग के प्रमुख सचिव बीके बाथम मंत्री की मंशा के अनुकूल आदर्श वृद्धाश्रम शुरु करने के लिए कलेक्टर विकास नरवाल को दो बार रिमाइंडर भी करा चुके है। दो दिन पहले भी मंत्री के निर्देश पर उन्होंने कलेक्टर से फोन पर बात करके प्रस्ताव जल्दी भेजने को कहा था। इसके बावजूद कलेक्टर विकास नरवाल इस मानवीय पहलू से जुड़े काम को शुरु करने में कोई रुचि नहीं दिखा रहे है।

उधर, कलेक्टर से नहीं हो पाया संपर्क
इस संबंध में जब सागर कलेक्टर विकास नरवाल से उनके मोबाइल नंबर पर संपर्क किया गया तो उन्होंने फोन ही नहीं उठाया। उनके निवास पर भी फोन लगाया गया तो जवाब मिला साहब फोन नहीं उठा रहे है आप मोबाइल पर ट्राइ कर लीजिए। पौने बारह बजे उनके कार्यालय में फोन लगाने पर उनके स्टेनो सीएस बघेल का कहना था कि अभी तक कलेक्टर साहब आए नहीं, आते है तो मैं आपकी उनसे बात करवाता हूं।

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

मसाला ख़बरें

रूही सिंह ने सोशल मीडीया पर बिखेर अपने हुस्न के जलवे

मुंबई: फिल्म 'कैलेंडर गर्ल्स' से अपने करियर की शुरुआत करने वाली रूही सिंह इन दिनों अपनी हॉट इंस्टाग्राम...

जैकी श्रॉफ की बेटी ने फिर दिखाई बोल्ड अदाएं

मुंबई: बॉलीवुड अभिनेता जैकी श्रॉफ की बेटी कृष्णा श्रॉफ अपनी तस्वीरों की वजह से सोशल मीडिया चर्चा में...

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार