आतंकी हमला : आर्मी चीफ बिपिन रावत पहुंचे जम्मू

On Date : 11 February, 2018, 12:27 PM
0 Comments
Share |

जम्मू: भारतीय सेना प्रमुख बिपिन रावत सुंजवान सैन्य शिविर में जारी आतंक रोधी अभियान का जायजा लेने के लिए रविवार (11 फरवरी) को जम्मू पहुंच गए हैं. एक दिन पहले जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादियों ने शिविर पर हमला कर दिया था. सेना की वर्दी में आए हथियारों से लैस जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों ने शनिवार तड़के करीब 4.45 बजे शिविर पर धावा बोल दिया था. हमले में सेना के एक जूनियर कमीशंड अधिकारी (जेसीओ) समेत दो जवान शहीद हो गए और नौ अन्य घायल हो गए. रक्षा अधिकारियों के मुताबिक, आतंकवादी फैमिली क्वाटरों में उस समय घुस आए जब सभी सो रहे थे. सेना ने अभियान के तहत तीन आतंकवादियों को मार गिराया है, जबकि एक आतंकवादी के छिपे होने की खबर है.

अलगाववादियों का विरोध प्रदर्शन रोकने के लिए कश्मीर में प्रतिबंध
जम्मू एवं कश्मीर लिबरेशन फ्रंट (जेकेएलएफ) के संस्थापक मकबूल बट की 34वीं की पुण्यतिथि के मौके पर रविवार (11 फरवरी) को अलगाववादियों द्वारा बुलाए गए विरोध प्रदर्शन को रोकने के लिए प्रशासन ने श्रीनगर और कश्मीर घाटी के कुछ हिस्सों में प्रतिबंध लगा दिया है. बट को 11 फरवरी 1984 को तिहाड़ जेल में फांसी दी गई थी. वह कुपवाड़ा के त्रेहगाम गांव का रहने वाला था. श्रीनगर के अलावा उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा जिले और सोपोर में भी प्रतिबंध लगाए गए हैं. वरिष्ठ अलगाववादी नेता सईद अली गिलानी, मीरवैज उमर फरूक, मुहम्मद यासीन मलिक को विरोध प्रदर्शन में शामिल होने से रोकने के लिए हिरासत में रखा गया है.

जिन इलाकों में प्रतिबंध लगाया गया है, वहां किसी भी तरह की अप्रिय स्थिति को रोकने के लिए पुलिस और अर्धसैनिक केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की टुकड़ियां तैनात की गई हैं. वहीं, 24 जनवरी को शोपियां जिले के शैगाम गांव में गोलीबारी के दौरान घायल हुई साइमा वानी (18) ने श्रीनगर के एक अस्पताल में दम तोड़ दिया है. इस गोलीबारी में दो आतंकवादी और एक नागरिक मारे गए थे और साइमा सहित दो लड़कियां घायल हुईं थीं.

नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तानी गोलीबारी में महिला की मौत
जम्मू एवं कश्मीर के पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तानी गोलीबारी में एक महिला की मौत हो गई. पुलिस ने रविवार (11 फरवरी) को बताया कि शनिवार (10 फरवरी) शाम को एक 65 वर्षीय महिला मेंधार इलाके में पाकिस्तानी सेना द्वारा दागे गए मोर्टार से गंभीर रूप से घायल हो गई थी. एक पुलिस अधिकारी ने कहा, "अस्पताल में भर्ती कराने से पहले ही महिला ने दम तोड़ दिया." उन्होंने कहा, "पाकिस्तानी बलों ने छोटे व स्वचालित हथियारों और मोर्टार से मेंधार में सैन्य व नागरिक इलाकों को निशाना बनाया. भारतीय जवानों ने भी इसका दृढ़ता से मुंहतोड़ जवाब दिया."

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार