BRO की सूची में होगा बदलाव, अरुण-अजय पहुंचे दिल्ली

On Date : 29 August, 2017, 1:13 PM
0 Comments
Share |

राजनीतिक संवाददाता, भोपाल
प्रदेश कांग्रेस संगठनात्मक चुनाव में विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। आज प्रदेश कांग्र्रेस के अध्यक्ष अरुण यादव, नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह दिल्ली रवाना हुए और चुनाव प्राधिकरण के पदाधिकारियों से मुलाकात की। इस मुलाकात के बाद यह तय हो गया है कि बीआरओ की सूची में बदलाव होने जा रहा है।  इस सूची से पीसीसी चीफ और नेता प्रतिपक्ष दोनों की नाराज हैं। दोनों ने इस सूची में बदलाव के लिए आज सुबह अचानक दिल्ली का रूख किया। दोनों नेताओं ने  वहां पर चुनाव प्राधिकरण के पदाधिकारियों से मुलाकात की। सूत्रों की मानी जाए तो  इस मुलाकात में वे एपीआरओ (एसिस्टेंट प्रदेश रिटर्निंंग आॅफिसर) राजकुमार कटारिया की शिकायत भी की गई। कल बीआरओ की बैठक में सबसे ज्यादा आरोप राज कुमार कटारिया पर लगे थे। इन आरोपों के साथ ही यह सामने आया था कि सूची में कई विसंगतिया हैं। कटारिया पर लगे आरोपों को दिल्ली में बताया गया।  सूत्रों की मानी जाए तो यादव चुनाव प्राधिकरण के पदाधिकारियों से मांग करते हुए कहा है कि जिन लोगों ने सदस्य ज्यादा बनाए हैं उनको मौका दिया जाना चाहिए। उन्हें बीआरओ बनाए जाने में प्राथमिकता दी जाना चाहिए। ऐसा माना जा रहा है कि अरुण यादव और अजय सिंह के दिल्ली में सक्रिय होते ही बीआरओ की सूची में बदलाव हो सकता है।
इन्होंने किया खुलकर विरोध
विधायक सौरभ सिंह ने तो बीआरओ की नियुक्ति में भाजपा के एक नेता के कहने पर नियुक्ति करने तक का आरोप लगा दिया था। जबलपुर के दिनेश दुबे को बीआरओ बनाए जाने को लेकर सौरभ सिंह खासे नाराज थे। वहीं विधायक इमरती देवी ने आरोप लगया कि बीआरओ बनाने में विधायकों की राय ही नहीं ले गई और जो काम नहीं कर रहे उन्हें बीआरओ बना दिया गया। वहीं प्रदेश महामंत्री वीर सिंह यादव ने आरोप लगाया कि काम करने वालों को मौका नहीं दिया गया। इन आरोपों के बाद ही प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष आज अचानक दिल्ली पहुंचे।

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार