किसानों की मौत: ट्विटर पर भिड़े सिद्धारमैया और योगी

On Date : 08 January, 2018, 9:19 AM
0 Comments
Share |

बेंगलुरू: कर्नाटक में अप्रैल-मई में विधानसभा चुनाव होने हैं लेकिन उसकी तपिश अभी से देखने को मिलने लगी है. रविवार को इसकी एक बानगी देखने को मिली. उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया में रविवार को आरोप-प्रत्यारोप लगाते नजर आए. दोनों मुख्यमंत्री ट्विटर पर भिड़ गए. दरअसल योगी बेंगलुरू में 'भाजपा परिवर्तन रैली में हिस्सा लेने पहुंचे थे. उन्होंने आरोप लगाया कि कर्नाटक सरकार ‘‘भ्रष्टाचार, विभाजनकारी राजनीति और विकास विरोधी नीतियों के कारण’’ राज्य को पांच वर्ष पीछे ले गई है. उन्होंने आरोप लगाया कि राज्य में विधानसभा चुनाव नजदीक आते ही कांग्रेस जाति के आधार पर समाज को बांटने पर तुली है.

सिद्धारमैया ने एक ट्वीट किया जिसमें उन्होंने तंज कसते हुए योगी का अपने राज्य में स्वागत किया. उन्होंने लिखा, "मैं यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ का हमारे राज्य में स्वागत करता हूं. सर, कई चीजें आप हमसे सीख सकते हैं. आप यहां आए हैं तो कृपया इंदिरा कैंटीन और राशन दुकान भी जाएं. इससे आपको अपने राज्य में भूखमरी से होने वाली मौतों के मामलों से निपटने में मदद मिलेगी जिसकी खबरें आती रहती हैं.

योगी भी कहां चुप रहने वाले थे. उन्होंने आनन-फानन में पलटवार किय. योगी ने लिखा, "स्वागत करने के लिए सिद्धारमैय जी आपका धन्यवाद. मैंने कर्नाटक में शासनकाल में किसानों द्वारा की जाने वाली आत्यहत्याओं के बारे में सुना है. कई ईमानदार अधिकारियों के बारे में सुना है. यूपी के मुख्यमंत्री के रूप में मैं आपके सहयोगियों द्वारा फैलाई गई अराजकता और मुसीबत को खत्म करने के लिए काम कर रहा हूं.'

योगी ने दावा किया, ‘‘पार्टी (कांग्रेस) एक बोझ ... देश के लिए एक समस्या बन गई है.’’ योगी ने एक जनसभा में दावा किया, ‘‘भ्रष्टाचार, उसकी विभाजनकारी राजनीति और उसकी विकास विरोधी नीतियों के कारण, कर्नाटक राज्य पांच वर्ष पीछे चला गया है. भ्रष्ट कांग्रेस, कर्नाटक का इस्तेमाल एक एटीएम के रूप में कर रही है.’’ योगी ने कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया पर निशाना साधते हुए कहा कि अब वह केवल अपनी हिन्दू जड़ों को याद कर रहे है. उन्होंने दावा किया, ‘‘सिद्धारमैया का खुद को एक हिन्दू कहना ठीक वैसे ही है जैसे गुजरात चुनाव के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का मंदिरों में जाना.’’ उन्होंने कहा कि हालांकि खुद को एक हिन्दू कहना तब तक उपयुक्त नहीं है जब तक वह (सिद्धारमैया) बीफ खाने का समर्थन करते रहेंगे.

उन्होंने कहा, ‘‘ कर्नाटक में जब भाजपा सरकार थी तो उसने एक गौ वध विरोधी कानून पारित किया था लेकिन कांग्रेस ने इसे रद्द कर दिया.’’ योगी ने राज्य में ‘‘बिगड़ती’’ कानून एवं व्यवस्था की स्थिति के लिए सिद्धारमैया पर निशाना साधा और दावा किया कि पांच वर्षों में आरएसएस या संघ परिवार से संबद्ध 22 लोगों की हत्या हुई है. उन्होंने दावा किया कि इसके विपरीत उत्तर प्रदेश में जब से उन्होंने मुख्यमंत्री का पद संभाला है तब से सांप्रदायिक हिंसा की कोई घटना नहीं हुई है. योगी ने तीन तलाक विधेयक को लेकर राज्य सभा की कार्यवाही को बाधित करने के लिए कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराया और आरोप लगाया कि कांग्रेस पार्टी ‘‘मुस्लिम विरोधी’’ और ‘‘महिला विरोधी’’ हैं.

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार