जयराम होंगे हिमाचल के अगले मुख्यमंत्री, विधायक दल की बैठक में हुआ फैसला

On Date : 24 December, 2017, 2:44 PM
0 Comments
Share |

नई दिल्लीः जयराम ठाकुर हिमाचल प्रदेश के अगले मुख्यमंत्री होंगे. प्रदेश में 42 सीटें जीतने वाली बीजेपी ने विधायक दल की बैठक के बाद ऐलान किया है की जयराम ठाकुर अगले पांच साल तक राज्य की कमान संभालेंगे. विधायक दल की बैठक में पूर्व सीएम प्रेम कुमार धूमल ने जयराम ठाकुर के नाम का प्रस्ताव रखा था. शिमला में विधायक दल की बैठक में जयराम ठाकुर को विधानमंडल का नेता चुना गया. इस बैठक में जेपी नड्डा भी मौजूद थे. हिमाचल में बीजेपी विधायक दल की बैठक में केंद्र के दो पर्यवेक्षक निर्मला सीतारमण और नरेंद्र सिंह तोमर भी मौजूद रहे.

जयराम ठाकुर हिमाचर प्रदेश से पांच बार के विधायक हैं. ठाकुर 1998 में पहली बार मंडी से विधायक चुने गए थे. जयराम ठाकुर वर्तमान में मंडी जिले की सिराज सीट से विधायक चुने गए हैं. ठाकुर साल 2007 से 2012 के बीच राज्य की धूमल सरकार में ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्री भी रहे हैं. 2009 से 2013 तक जयराम ठाकुर ने हिमाचल प्रदेश बीजेपी के अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी भी संभाली है.

जयराम ठाकुर ने विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद मीडिया के सामने आए. उन्होंने कहा कि हिमाचल में लोगों को बीजेपी से बहुत उम्मीद है. मुझे विधायक दल का नेता चुनने के लिए शुक्रिया. ठाकुर ने कहा कि,  'हिमाचल में बीजेपी का सपना साकार हुआ है, कांग्रेस मुक्त हिमाचल बीजेपी के सपनों का नतीजा है.'

आपको बता दें कि हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनावों में बीजेपी ने पूर्ण बहुमत तो हासिल कर लिया लेकिन पार्टी को यहां दो बड़े झटके लगे जिसके चलते अभी तक राज्य में सीएम को लेकर लंबा मंथन चला. हिमाचल में बीजेपी ने प्रेम कुमार धूमल का सीएम प्रत्याशी घोषित किया था लेकिन धूमल सुजनपुर सीट से चुनाव हार गए. इसके अलावा हिमाचल बीजेपी के अध्यक्ष सतपाल सत्ती भी ऊना सीट से अपना चुनाव हार गए. अब सीएम की दौड़ में पांच बार से विधायक रहे जयराम ठाकुर और केंद्रीय मंत्री जयराम ठाकुर के नाम पर चर्चा हुई लेकिन आखिरी में मुहर जयराम ठाकुर के नाम लगी.

बैठक से पहले प्रेम कुमार धूमल मुख्यमंत्री पद की रेस से अलग कर चुके थे. वरिष्ठ नेता प्रेमकुमार धूमल ने कहा, "बीजेपी की शानदार जीत के बाद भी मैं अपनी सीट से चुनाव हार गया. अटकलें लगाई जा रही हैं कि मैं अभी भी सीएम पद की दौड़ में हूं लेकिन मैंने पहले ही बता दिया था कि मैं अब इस पद की रेस में नहीं हूं. पार्टी हाईकमान ही मेरे बारे में निर्णय ले सकता है."

प्रदेश के कार्यवाहक मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के बेटे व शिमला ग्रामीण सीट से विधायक विक्रमादित्य ने कहा, "प्रदेश के व्यापक हित में, बीजेपी को सीएम के नाम की घोषणा जल्द से जल्द करनी चाहिए. हिमाचार बीजेपी का एक धड़ा अभी भी धूमल को सीएम बनाने का प्रयास कर रहा है जो कि अलोकतांत्रिक है."

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार