व्हीकुलर अंडरपास की देरी बनी लोगों के लिए जी का जंजाल

On Date : 08 September, 2017, 9:22 PM
0 Comments
Share |

डेढ़ साल से बन रहा है करोड़ों की लागत वाला ये अंडरपास
इंदौर। बायपास के बिचौली मर्दाना जंक्शन पर बनाए गए व्हीकुलर अंडरपास को शुरू करने में लगातार देरी हो रही है। पहले जुलाई तक इसे शुरू करने का दावा किया गया था लेकिन काम की ढीली गति से दावा हवाई साबित हुआ। अब सितंबर आ गया है लेकिन जिम्मेदार कंपनी के कर्ताधर्ता अभी भी साफतौर पर यह बताने की स्थिति में नहीं हैं कि किस दिन से अंडरपास ट्रैफिक के लिए खोला जाएगा। लोगों को जाम से मुक्ति मिल ही नहीं पा रही है। 
 
 
यह जरूर है कि अंडरपास बनकर तैयार हो गया है और उसके सीमेंट-कांक्रीट के रोड पर सीलिंग का काम ही शेष है। अंडरपास शुरू होने से बायपास का ट्रैफिक उसके ऊपर से गुजर सकेगा लेकिन अभी वाहनों को साइड में बने सर्विस रोड से निकाला जा रहा है। बिचौली मर्दाना फ्लायओवर का काम अतिरिक्त काम के रूप में नेशनल हाईवेज अथॉरिटी आॅफ इंडिया (एनएचएआई) ने मंजूर किया था। करीब डेढ़ साल पहले 17 करोड़ रुपए की लागत से 750 मीटर लंबे इस अंडरपास का काम शुरू किया गया था। पहले इसे सालभर में बनाने का लक्ष्य था लेकिन काम खिसकते-खिसकते डेढ़ साल हो गए लेकिन सुविधा अब तक नहीं मिल पाई। कनाड़िया और पीपल्याहाना रोड के बीच स्थित बिचौली मर्दाना जंक्शन पर इसका बनना इसलिए जरूरी है, क्योंकि भविष्य में नगर निगम जंक्शन से जुड़ने वाले बंगाली नाका-बायपास रोड को मास्टर प्लान के अनुरूप चौड़ा करेगा। इसके बाद रोड पर ट्रैफिक दबाव पहले की तुलना में काफी बढ़ेगा। हालांकि अंडरपास बनाने वाली कंपनी इंदौर-देवास टोलवेज के कर्ताधर्ता यह तर्क देते हैं कि पहले बिचौली मर्दाना जंक्शन पर एक ओपनिंग वाला अंडरपास बनना था। बाद में ट्रैफिक दबाव के कारण योजना बदली गई और उसे डबल ओपनिंग का बनाया गया। इससे आने-जाने वाहनों के लिए दो अलग-अलग रास्ते उपलब्ध होंगे। सिंगल ओपनिंग वाले रास्ते में बड़े वाहन आमने-सामने आ जाते हैं और ट्रैफिक जाम हो जाता है।
 
8-10 दिन में काम पूरा होने की उम्मीद
इंदौर-देवास टोलवेज कंपनी के टीम लीडर अजय पांडे का तर्क है कि अंडरपास के सभी काम पूरे हो चुके हैं लेकिन कांक्रीट पेनल के बीच में सीमेंट भरने का काम बाकी है। सीलिंग बारिश में नहीं की जाती, इसलिए यह काम देरी से हुआ लेकिन अब इसे शुरू किया गया है। उम्मीद है कि आठ-दस दिन में काम पूरा हो जाएगा। इसके बाद अंडरपास को ट्रैफिक के लिए खोल दिया जाएगा।
 
अंडरपास से कई फायदे
जंक्शन पर व्हीकुलर अंडरपास बनने से राऊ और देवास तरफ से आने-जाने वाले वाहन निर्बाध गति से गुजर सकेंगे। जिन वाहनों को देवास से आकर बिचौली मर्दाना रोड (कनाड़िया रोड की तरफ) की ओर मुड़ना है, वे अंडरपास के नीचे से गुजर सकेंगे। जो वाहन चालक राऊ की ओर से आकर कनाड़िया रोड तरफ जाना चाहते हैं, वे अंडरपास के साइड में बने सर्विस रोड से कनाड़िया रोड पर जा सकेंगे। जो वाहन चालक कनाड़िया रोड से आकर राऊ की ओर जाना चाहते हैं, वे भी अंडरपास के नीचे से गुजरकर जा सकेंगे। देवास तरफ जाने वाले वाहन जंक्शन के लेफ्ट टर्न पर बने सर्विस रोड से बायपास तक जा सकेंगे।

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार