CM ममता बनर्जी की D-Litt डिग्री पर बवाल...

On Date : 11 January, 2018, 11:34 AM
0 Comments
Share |

कोलकता: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को मिलने वाली डॉक्टरेट ऑफ लिटरेचर यानी डी लिट डिग्री पर आज कोलकाता हाई कोर्ट में सुनवाई होने वाली है. हाई कोर्ट गुरुवार को होने वाली सुनवाई के दौरान पीठ यह तय करेगी की ममता को डी लिट की डिग्री दी जाए या नहीं. पश्चिम बंगाल विश्वविद्यालय के पूर्व वाइस चांसलर रंजू गोपाल मुखोपाध्याय की ओर से हाई कोर्ट में दायर की गई याचिका में कहा गया है कि इस डिग्री के लिए ममता अयोग्य हैं.

विश्वविद्यालय की मंशा पर सवाल
ममता को डी लिट की डिग्री दिए जाने पर रंजू गोपाल द्वारा विश्वविद्यालय की मंशा पर भी सवाल उठाए गए हैं. उन्होंने कहा है कि ममता को यह डिग्री देने का फैसला मनमाने और अनुचित तर्क के साथ लिया गया है. बुधवार को हाई कोर्ट में हुई सुनवाई के दौरान रंजूगोपाल मुखर्जी के वकील विकास भट्टाचार्य ने दलील दी कि विश्वविद्यालय के मुद्दे और शिक्षा खुद ही जनहित के विषय हैं. वहीं, इस मामले में राज्य सरकार ने न्यायाधीश जे भट्टाचार्य और न्यायाधीश अरिजीत बनर्जी की पीठ के सामने अपना पक्ष रखते हुए विश्वविद्यालय के इस फैसले को राजनीति से प्रेरित बताया है.

11 विश्वविद्यालय का दीक्षांत समारोह
11 जनवरी को कोलकाता विश्वविद्यालय का दीक्षांत समारोह होने वाला है. दीक्षांत समारोह के दौरान ही संस्थान की छात्रा रह चुकी ममता को यह उपाधि दी जाने वाली है. बुधवार को हाई कोर्ट में हुई सुनवाई के दौरान महाधिवक्ता किशोर दत्त ने कहा था कि ममता बनर्जी को मानद उपाधि देने का फैसला कोलकता विश्वविद्यालय के सीनेट और सिंडिकेट ने किया है. किशोर ने कोर्ट में कहा था कि यह कोई जनहित याचिका नहीं है इसे खारिज किया जाना चाहिए.

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार