पुलिसिया डंडे के सामने न ‘फूल’ आए और न ‘कांटे’

On Date : 14 February, 2018, 4:24 PM
0 Comments
Share |

जबलपुर: कथित वेलेंटाइन-डे पर युवाओं ने अपने मित्रों को गिफ्ट, ग्रीटिंग्स कार्ड और गुलाब के फूल भेंट किए,लेकिन कहीं भी वेलेंटाइन डे का समर्थन या विरोध नहीं दिखा। विरोधी संगठनों के दावे तथा पुलिस के डंडे के सामने न ‘फूल’ आए और न ‘कांटे’। बीते वर्षों की तुलना में इस बार प्रेमी जोड़े भी सड़कों पर कम ही निकले, जो गए भी तो मंदिरों में शिवरात्रि पर्व की आड़ लेकर दर्शन कर चलते बने। कहीं किसी भी प्रकार की अप्रिय स्थिति न बने इससे निपटने के लिए पुलिस चिन्हित लवर्स प्वाइंट्स  के आसपास घूमती रही।
नहीं आई कोई शिकायत
शहर में सभी थाना क्षेत्रों में पुलिस की गाड़ियां घूमती रहीं। गली मोहल्लों में भी पुलिस के पहुंचने से प्रेम का इजहार  करने वालों में डर बना रहा। हालांकि शहर में किसी युवती ने छेड़छाड़ या कोई ऐसी शिकायत नहीं की जिससे पुलिस ने भी राहत की सांस ली। पुलिस द्वारा सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने के लिए कई स्थानों पर पुलिसकर्मी सुबह से ही तैनात कर दिए गए थे।
फूलों पर भी प्यार की मार
इस बार वैलेंटाइन डे अन्य सालों की तुलना में अलग नजर आ रहा है। जहां पिछले सालों तक अधिकांश गुलाब और  गुलदस्ते, कार्ड एक दूजे को दिए जाते थे, इस साल युवाओं में यूटीलिटी गिफ्ट देने का क्र ेज बढ़ा। बाजारों में युवा सबसे ज्यादा बैंड, परफ्यूम, की-रिंग, घड़ी की खरीदारी करते दिखे, जो उपयोग में भी काम आ सके। 


 

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार