अमित शाह के आश्वासन के बाद दूर हुई नितिन पटेल की नाराजगी

On Date : 31 December, 2017, 3:22 PM
0 Comments
Share |

गांधी नगर: गुजरात में बीजेपी की सरकार बनने के बाद विभागों के बंटवारे को लेकर राजनीतिक पारा पिछले कुछ दिनों से गर्म था. राज्य के नवनियुक्त उपमुख्यमंत्री ने अपना पद संभालने से इनकार कर दिया था. माना जा रहा था कि विभागों के बंटवारे को लेकर मुख्यमंत्री विजय रूपाणी और नितिन पटेल के बीच मतभेद चल रहा था. नितिन पटेल ने खुद मीडिया में बयान दिया था कि यह आत्मसम्मान का मामला है और मैंने अपनी बात पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से कह दी है.

इस मामले में ताजा अपडेट के मुताबिक अब सबकुछ सामान्य हो चुका है. उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने अपना पदभार संभाल लिया है. बताया जा रहा है कि बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के साथ फोन पर हुई बातचीत के बाद नितिन पटेल की नाराजगी कुछ दूर हुई है. बताया जा रहा है कि अमित शाह ने उनकी बातों पर विचार करने का आश्वासन दिया था.

अमित शाह के आश्वासन के बाद नितिन पटेल ने रविवार को गांधीनगर पहुंच कर अपना पद संभाल लिया. नितिन पटेल ने कहा, "मैं कोई महत्वपूर्ण मंत्रालय नहीं चाहता था. मेरी बस यही इच्छा थी कि मैं जिन मंत्रालयों को पहले से देख रहा था, वो मुझे फिर से दे दिए जाएं. मैंने 40 साल से भाजपा कार्यकर्ता के तौर पर काम किया है. मेरे योगदान को देखते हुए ही पार्टी ने मुझे उपमुख्‍यमंत्री बनाया है. मैं पार्टी छोड़ने के बारे में सोच भी नहीं सकता."

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार