पुलिस कर्मी के घर हफ्ते में दूसरी बार चोरी

On Date : 12 September, 2017, 6:25 PM
0 Comments
Share |

नगदी जेवर ले गए चोर, पुलिस के खिलाफ आक्रोश
जबलपुर।
गढ़ा थाना क्षेत्र में रहने वाले एक पुलिस आरक्षक के घर चोरों ने एक सप्ताह में दूसरी बार धाबा बोला है। आरक्षक के घर पर पहली बार घुसे चोरों ने लाखों के जेवरात चोरी किए थे, इस बार फिर से घर पर रखे नगदी एवं जेवरों पर हाथ साफ कर दिया है। कल रात आरक्षक के घर पर चोरी होने की जानकारी लगते ही क्षेत्रीय लोग बड़ी संख्या में एकत्रित हो गए और पुलिस के खिलाफ आक्रोश प्रकट किया।
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार मकान नंबर 399 शक्तिनगर गढ़ा निवासी आरक्षक सरल शर्मा की पोस्टिंग नरसिंहपुर जिला की पुलिस लाइन में है। सरल के पिता रामलाल शर्मा को गंभीर बीमारी होने के कारण नागपुर में इलाज चल रहा है। आरक्षक सरल का भाई नागपुर में अन्य परिजनों के साथ अपने पिता का इलाज करा रहा है। कल रात आरक्षक के सूने घर का चीप से दरवाजा तोड़कर अंदर घुसे चोर ने घर पर रखे कुछ नगदी रुपयों के साथ जेवरात चोरी कर लिए। चोर सिलेण्डर घसीटकर ले जा रहा था, जिसकी आवाज सुनकर पड़ोस में रहने वाले निगम परिवार के सदस्यों की नींद खुल गई। जिसके बाद पड़ोसियों के जागने की आहट से चोर भाग निकला।
पुलिस की कार्यप्रणाली पर उठे सवाल
आरक्षक सरल शर्मा के घर विगत 3 सितंबर को भी चोरी हुई थी। इसके बाद कल रात को फिर से चोर आरक्षक के घर में घुस गए। लोगों का कहना है कि पुलिस जब खुद के घरों को नहीं बचा पा रही है, तो आम जनता की हिफाजत क्या करेगी। चोरों के हौसले कितने बुलंद हैं इस बात का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि पुलिस अब तक चोरों का कोई सुराग नहीं लगा पाई है और चोरों ने दूसरी बार आरक्षक के घर पर वारदात को अंजाम दे दिया।
नहीं होती गश्त, दहशत में लोग
क्षेत्रीय लोगों ने बताया कि बार-बार सूचना देने के बाद भी पुलिस मौके पर नहीं पहुंचती। गोरखपुर एवं गढ़ा थाना क्षेत्र की सीमा होने के कारण दोनों थानों की पुलिस एक-दूसरे पर मामला डालना चाहती है। क्षेत्र में न तो रोज गश्त होती है और न ही पुलिस दिखाई देती है। जिससे क्षेत्रीय लोग दहशत में हैं।

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार