रिलायंस जियो अब JioCoin लाने की तैयारी में : रिपोर्ट

On Date : 12 January, 2018, 5:48 PM
0 Comments
Share |

हाल ही में आपने Bitcoin से जुड़ी खबरें पढ़ीं और देखी होंगी. इस क्रिप्टोकरेंसी की कीमतें तेजी से बढ़ीं और लोगों ने इससे करोड़ों रुपये कमाए. अभी भी लगभग 8.6 लाख रुपये है, लेकिन हाल ही में यह 12 लाख से भी ज्यादा पहुंच गया.

रिलायंस जियो ने टेलीकॉम में एंट्री के साथ ही धमाल मचाया था, क्या अब जियो Bitcoin की तरह क्रिप्टोकरेंसी लाने की तैयारी कर रही है? रिपोर्ट्स के मुताबिक रिलायंस जियो अब JioCoin नाम का क्रिप्टोकरेंसी लाने की तैयारी में है.

मिन्ट की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि मुकेश अंबानी के बड़े बेटे अकाश अंबानी JioCoin प्रोजेक्ट को लीड कर रहे हैं. इस टीम में 50 यंग प्रोफेशनल्स हैं और ये मिलकर ब्लॉकचेन टेक्नॉलॉजी पर काम कर रहे हैं.

रिपोर्ट् में कहा गया है कि कंपनी का टार्गेट 25 साल तक के 50 लोगों को भर्ती करके आकाश अंबानी की टीम तैयार की जाएगी.

ब्लॉकचेन टेक्नॉलॉजी दरअसल एक तरह की ट्रांजैक्शन लिस्ट का रिकॉर्ड है (डिजिटल लेजर) जिसे क्रिप्टोग्राफी से लिंक और सिक्योर किया जाता है. हर ब्लॉक में एक हैश प्वॉइंटर होता है जो इसे दूसरे ब्लॉक से जोड़ता है. यह टेक्नॉलॉजी दो लोगों के बीच हुए ट्रांजैक्शन को रिकॉर्ड कर सकता है. इसमें रिकॉर्ड की जानकारियां कॉपी नहीं की जा सकती हैं. यह डेटाबेस क्लाउड पे होते हैं ताकि इसमें ना कोई छेड़छाड़ कर सके और न ही स्पेस की कमी हो.  

साधारण शब्दों में कहें तो ब्लॉकचेन एक टेक्नॉलॉजी है जिससे Bitcoin का कारोबार चलता है.

मौजूदा दौर में भारत में क्रिप्टोकरेंसी लीगल नहीं है, लेकिन अगर जियो ऐसी कोई तैयारी कर रहा है तो संभव है आने वाले समय में यहां इसे लीगल किया जाए. रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया और वित्त मंत्रालय ने हाल ही में इसके इस्तेमाल को लेकर चेतावनी जारी की है. रिपोर्ट्स के मुताबिक बिटक्वाइन का मार्केट कैप 600 बिलियन डॉलर का है.

भारत में फिलहाल यूजर्स Bitocin से पैसे कमाने के लिए जेब पे नाम के एक ऐप का सहारा लेते हैं जहां Bitcoin खरीद और बेच सकते हैं. फिलहाल रिलायंस जियो की तरफ से इस बारे में कोई भी जानकारी सामने नहीं आई है.

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार