आग से जले ऋषभ की मौत, हंगामा

On Date : 14 January, 2018, 5:04 PM
0 Comments
Share |

जबलपुर: ओमती थानाक्षेत्र स्थित बाइक शोरूम साहिल होन्डा में काम के दौरान दो बदमाशों द्वारा आग से जलाए गए युवक ऋषभ गुप्ता की आज सुबह मौत हो गई है। ऋषभ को कुछ दिन पहले शो रूम में ही काम करने वाले दो बदमाश किस्म के युवकों ने मिलकर पेट्रोल डालकर जिंदा जला दिया था। वारदात के बाद से ही युवक की हालत गंभीर बनी हुई थी। ओमती पुलिस द्वारा आरोपियों के खिलाफ धारा 307 का प्रकरण दर्ज करने की बजाय मामूली धाराएं लगाकर केस को रफा-दफा करने का प्रयास किया जा रहा था। अब घायल ऋषभ की मौत ने पूरे मामले में पुलिस की कार्यप्रणाली और अपराधियों से सांठगांठ की बात उजागर कर दी है।
ऋषभ की मौत के बाद परिजनों का शोरूम प्रबंधन और आरोपी युवकों के खिलाफ आक्र ोश फूट पड़ा और उन्होंने हंगामा करते हुए हमलावरों के साथ शोरूम संचालक एवं ओमती पुलिस पर गंभीर आरोप लगाते हुए दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। ऋषभ की मौत की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने पंचनामा कार्रवाई कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
4 जनवरी की सुबह का है घटनाक्रम
जानकारी के मुताबिक 4 जनवरी की सुबह  गोरखपुर खेरमाई मंदिर निवासी ऋषभ गुप्ता रोजाना की तरह चौथा पुल स्थित साहिल होंडा  में काम करने गया था। जहां शाम 4 बजे वह अपने काम में व्यस्त था, तभी शोरूम के दो अन्य कर्मचारी शंकर बागेंद्र और सचिन कोष्टा वहां पहुंचे और ऋषभ के पेंट के अंदर पेट्रोल डालकर लाइटर से आग लगा दी, जिससे ऋषभ बुरी तरह जल गया था, जिसकी हालत बेहद गंभीर होने के बाद भी पुलिस ने वारदात की रिपोर्ट पर हमलावर शंकर बागेन्द्र और सचिन कोष्टा के खिलाफ धारा 307 नहीं लगाई। दोनों के खिलाफ धारा 285,258,338,34 का अपराध दर्ज किया था।
पहले भी दबाया गया था मामला
परिजनों का आरोप है कि ऋषभ पर शोरूम में ही पहले भी एक बार ब्लेड से हमला किया गया था, लेकिन शो रूम संचालक ने शो रूम की बदनामी होने के डर से हमलावरों एवं पुलिस के साथ सांठगांठ कर मामले को दबा दिया था।

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार