सतनवाड़ा में धन्यवाद सभा कर सिंधिया करेंगे पलटवार

On Date : 17 July, 2017, 1:18 PM
0 Comments
Share |

प्रदेश टुडे संवाददाता, ग्वालियर
आने वाले दिनों में गुना-शिवपुरी संसदीय क्षेत्र में बुआ यशोधरा राजे सिंधिया और भतीजे ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीच जुबानी जंग अब जमीन पर आने लगी है। आने वाले दिनों में यह और तेज होगी। बुआ द्वारा कांग्रेस के गढ़ में खंब ठोकने से बिफरे सांसद सिंधिया अब सतनवाड़ा में 21 जुलाई को धन्यवाद सभा कर बुआ के किले में सेंधमारी करेंगे।
गौरतलब है कि कैबिनेट मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने 13 जुलाई को क्षेत्रीय विधायक यशोधरा राजे सिंधिया ने ज्योतिरादित्य सिंधिया के खास सिपहसालारों में से एक विधायक राम सिंह यादव के विधानसभा क्षेत्र के पांच गांवों में तूफानी दौरा कर चुनावी शंखनाद का बिगुल फूंक दिया था। यहां यशोधरा ने पाार्टी के कार्यकतार्ओं से कहा कि अब कोलारस से चुनाव का शंखनाद होगा। इसके बाद सक्रिय हुए सांसद सिंधिया के सिपहसालारों ने उन्हें इसकी जानकारी उन्हें दी तो उन्होंने भी भाजपा के गढ़ पोहरी विधानसभा के सतनवाड़ा में धन्यवाद सभा का ऐलान कर दिया। रविवार को शिवपुरी में जिला कांग्रेस ने आनन-फानन में एक बैठक बुलाकर पोहरी ब्लॉक के पूर्व विधायक हरी वल्लभ शुक्ला, एनपी शर्मा, सुरेश राठखेड़ा, राजेंद्र पिपलौदा को भीड़ लाने की जिम्मेदारी सौंपी गई है।
विवाद की वजह श्रेय की राजनीति
2018 में विधानसभा चुनाव होना है, लेकिन श्रेय की राजनीति के लिए मंड़ीखेड़ा जलावर्धन प्रोजेक्ट बुआ-भतीजे के बीच विवाद का विषय बन गया है। दोनों ही नेता इसे अपना प्रयास बता रहे हैं, लेकिन हकीकत यह है कि इस प्रोजेक्ट को पूर्व केंद्रीय मंत्रीज्योतिरादित्य सिंधिया लाए जरूर थे, लेकिन इस काम को रफ्तार यशोधरा राजे ने दी।

सतनवाड़ा के जरिए यशोधरा के नजदीकी विधायक पर प्रहार
पोहरी विधानसभा क्षेत्र से भाजपा के प्रहलाद भारती दो बार से विधायक बन रहे हैं। प्रहलाद यशोधरा राजे के काफी नजदीकी विधायकों में से एक हैं। यशोधरा राजे ने अपनी विधानसभा के बाहर पैर रखा तो ज्योतिरादित्य सिंधिया भी 21 जुलाई को सतनवाड़ा में एनटीपीसी कॉलेज का भूमि पूजन करेंगे और यहीं जन समुदाय को भी संबोधित कर धन्यवाद देंगे।

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार