रूपाणी के शपथ ग्रहण समारोह से पहले लौटे शिवराज...

On Date : 26 December, 2017, 7:39 PM
0 Comments
Share |

गांधीनगर: मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान विजय रूपाणी के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने गुजरात तो पहुंचे लेकिन कार्यक्रम से पहले ही वापस लौट गए। इससे मध्य प्रदेश में शीर्ष नेतृत्व में बड़े फेरबदल की अटकलों को एक बार फिर से हवा मिल गई है। अब राजनीतिक गलियारों में चर्चा ये भी है कि शपथ ग्रहण समारोह से पहले ऐसा कुछ हुआ, जिससे नाराज होकर शिवराज मध्य प्रदेश लौट गए।

शिवराज सिंह मंगलवार को शपथ ग्रहण में शामिल होने राजकीय विमान से गुजरात पहुंचे थे। शि‍वराज कार्यक्रम स्थल भी गए और वहां विजय रूपाणी से मुलाकात कर उन्हें गुलदस्ता भेंट किया लेकिन वो शपथ ग्रहण तक नहीं रुके और मध्य प्रदेश लौट गए। शिवारज यहां से सीधे मध्य प्रदेश के गुना पहुंचे। जब यहां पत्रकारों ने उनसे शपथ ग्रहण में शामिल न होने पर सवाल किया तो उन्होंने कहा, 'मेरे 2 महत्वपूर्ण कार्यक्रम थे। एक कोलारस और दूसरा मुंगावली में था, इसलिए मैं राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से अनुमति लेकर वापस लौट आया।'

गौरतलब है कि मुंगावली और कोलारस विधानसभा में उपचुनाव होने हैं। इन दोनों सीटों पर भाजपा की झोली में लाने के लिए शिवराज पुरजोर मेहनत कर रहे हैं क्योंकि इससे पहले हाल में चित्रकूट सीट पर हुए उपचुनाव में कांग्रेस ने जीत दर्ज की थी। जबकि इस विधानसभा में आने वाले एक गांव में मुख्यमंत्री शिवारज खुद एक रात रुककर भी आए थे।
    
शिवराज सिंह चौहान के आधिकारिक कार्यक्रम को देखा जाए तो उसमें शपथ ग्रहण में शामिल होने की बात कही गई है। चौहान के कार्यक्रम के तहत सुबह 8 बजे भोपाल से राजकीय विमान द्वारा अहमदाबाद के लिए निकलना था। जहां पर सड़क मार्ग से गांधीनगर में कार्यक्रम स्थल पहुंचते। यहां वे शपथ ग्रहण कार्यक्रम में शामिल होते और 12.50 पर मध्य प्रदेश के गुना लिए रवाना हो जाते। हालांकि सब कुछ शिवराज के तय कार्यक्रम के अनुसार ही हुआ लेकिन वो शपथ ग्रहण तक नहीं रुके और पहले ही मध्य प्रदेश के लिए रवना हो गए।

सूत्रों के मुताबिक, चौहान का शपथ ग्रहण से पहले लौट आना। सब कुछ ठीक न होने की ओर इशारा कर रहा है। हालांकि इससे पहले भी वो कई दफा अपनी रैलियों में लेट पहुंचे हैं। बताया जा रहा है कि सीएम श‍िवराज सिंह चौहान मध्य प्रदेश के भाजपा अध्यक्ष नंद कुमार सिंह को हटाने की चर्चाओं से नाराज हैं। दरअसल नंद कुमार सिंह पर ऐसे आरोप लगते रहे हैं कि वो संगठन से ज्यादा शिवराज सिंह के समर्प‍ित लोगों के लिए काम करते रहते हैं। इन खबरों की वजह से शिवराज परेशान हैं। जो भी हो शिवराज का कार्यक्रम से यूं चला जाना कई सवाल खड़े कर गया है।

 

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार