मंत्रियों के लिए ट्रैफिक और फ्लाइट रोकी जाए तो कोई बुराई नहीं

On Date : 21 March, 2017, 10:20 AM
0 Comments
Share |

नई दिल्ली: नरेंद्र मोदी सरकार में मंत्री उमा भारती ने नेताओं और अधिकारियों के वीवीआईपी कल्चर का बचाव किया है. उन्होंने सरकारी गाड़ियों से लालबत्ती हटाने के पंजाब सरकार के फैसले को गैर-जरूरी बताया है. सोमवार को उन्होंने कहा कि मंत्रियों के लिए कुछ देर फ्लाइट और ट्रैफिक रोकना कोई बड़ा मुद्दा नहीं है. मेरा मानना है कि अगर कोई मंत्री सरकारी ड्यूटी पर जा रहा है तो उसे लालबत्ती का फायदा मिलना चाहिए. जरूरी मीटिंग में शामिल होने के लिए अगर फ्लाइट भी 5-7 मिनट तक रोकना पड़े तो कोई बुराई नहीं है. क्योंकि मीटिंग चूकने पर यह लंबे वक्त के लिए टल जाती है और जनता का करोड़ों रुपये बरबाद होता है. वहीं उन्होंने कहा कि निजी दौरे वीआईपी सुविधा नहीं दी जानी चाहिए.
 
पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ट्वीट किया था, ''हमारी कैबिनेट ने वीआईपी कल्चर खत्म करने का फैसला किया। किसी मंत्री, विधायक और ब्यूरोक्रेट्स की सरकारी गाड़ी पर कोई बत्ती नहीं होगी.'' इसके कुछ घंटे बाद ही अमरिंदर और कई मंत्रियों ने खुद अपनी सरकारी गाड़ी से बत्तियां हटवा दी थीं.
 
उल्लेखनीय है कि पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपनी पहली कैबिनेट मीटिंग में वीआईपी कल्चर खत्म करने का फैसला लिया. अब राज्य के किसी भी सरकारी गाड़ी पर लाल, पीली और नीली बत्तियां नहीं लगाई जाएंगी. यह गैर-कानूनी होगा और जुर्माना भी लगाया जाएगा.

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

मसाला ख़बरें

रूही सिंह ने सोशल मीडीया पर बिखेर अपने हुस्न के जलवे

मुंबई: फिल्म 'कैलेंडर गर्ल्स' से अपने करियर की शुरुआत करने वाली रूही सिंह इन दिनों अपनी हॉट इंस्टाग्राम...

जैकी श्रॉफ की बेटी ने फिर दिखाई बोल्ड अदाएं

मुंबई: बॉलीवुड अभिनेता जैकी श्रॉफ की बेटी कृष्णा श्रॉफ अपनी तस्वीरों की वजह से सोशल मीडिया चर्चा में...

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार