विक्रांत की हत्या के बाद सदर में तनाव

On Date : 12 September, 2017, 6:29 PM
0 Comments
Share |

पेट्रोल पंप के सीसी कैमरे में दिखा आरोपी, हिरासत में 3 संदेही
जबलपुर।
बी कॉम प्रथम वर्ष के छात्र की चाकू से गोदकर सनसनीखेज ढंग से हत्या करने के मामले में सदर क्षेत्र में सुबह से टेंशन की स्थिति बनी रही। पोस्टमार्टम के बाद शव घर पहुंचने से पहले सैकड़ों की संख्या में स्थानीय लोग मौके पर एकत्रित रहे। जघन्य हत्या और आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर लोेगों के मन में भारी आक्रोश रहा। वारदात के बाद से आरोपियों की तलाश में जुटी पुलिस ने बिरमानी पेट्रोल पंप में लगे सीसी टीवी कैमरे के फुटेज निकाले हैं। फुटेज में आरोपी के दिखाई देने सहित 3 संदेहियों के हिरासत में लेने की खबर है।
सदर काली मंदिर के पीछे रहने वाले विक्रांत कुशवाहा की हत्या को लेकर क्षेत्र में तरह-तरह की चर्चाएं हैं। हालांकि पड़ोसियों सहित क्षेत्रीय लोगों ने पुलिस को बताया कि विक्रांत शांत स्वभाव का लड़का था,उसका किसी से कोई विवाद भी कभी सामने नहीं आया। केंट थाना पुलिस विक्रांत के दोस्तों से भी पूछताछ करने में जुटी हुई है। वहीं विक्रांत का रिश्ता भाजपा नेता से होने के कारण पुलिस पर भी हत्यारे को खोजने दबाव बढ़ रहा है।
थाना लेकर पहुंचे शव
छात्र विक्रांत का शव लेकर हिंदू संगठन के साथ सैकड़ों लोग केंट थाना पहुंचे। थाने के सामने शव रखकर आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर नारेबाजी की गई। टीआई प्रफुल्ल श्रीवास्तव ने परिजनों को समझाइश देते हुए जल्द ही आरोपियों की गिरफ्तारी एवं विवाद का कारण स्पष्ट करने की बात कही,जिसके बाद गुस्साए लोग शव लेकर मुक्तिधाम के लिए रवाना हुए।
चिकिन सेंटर वाले का नाम
जांच के दौरान पुलिस को पता चला कि वारदात स्थल के पास चिकिन की दुकान लगाने वाले को विवाद के संबंध में पूरी जानकारी है। प्रत्यक्षदर्शियों ने पुलिस को बताया कि हमला करने वाला युवक मटन शॉप में मुर्गा-बकरा काटने का काम भी करता था। पुलिस सूत्रों का कहना है कि विक्रांत को जिस तरीके से चाकू के घाव मारे गए उससे हमलावर की कू्ररता साफ जाहिर होती है।
असमाजिक तत्वों के अड्डे बने खंडहर ढहाए जाएं
भाजपा के एक प्रतिनिधि मंडल ने आर्मी स्टेशन सेल कमांडर ब्रिगेडियर अरूण सभरवाल से भेंट कर मुर्गीखाना में हुई युवक की हत्या का हवाला देकर खण्डहर में बदल चुके पुराने बंगलों को ढहाने की मांग की। इसके अलावा केंट बोर्ड द्वारा बनाई गई वोटर लिस्ट से बाहर किए गए लोगों को पुन: सुनवाई का मौका देने,एमईएस की ओर जाने वाले मार्ग की मरम्मत सहित 5 सूत्रीय मांगों का ज्ञापन सौंपा। इस अवसर पर विधायक अशोक रोहाणी, मंडल अध्यक्ष संजय ठाकुर, केंट बोर्ड मेंबर अमित अग्रवाल,सुंदर अग्रवाल,अजय पदम, पूर्व मेंबर संजय जैन आदि उपस्थित थे। 

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार