मुंबई : महाराष्ट्र में हुए उपचुनाव के नतीजों की घोषणा के बाद महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा है कि बीजेपी गड़बड़ी वाली इलेक्ट्रोनिक मशीनों (EVM) के चलते प्रभावित हुई है क्योंकि सुबह-सुबह वोट डालने पहुंचे मतदाता मशीनों में गड़बड़ी के चलते फिर मतदान केंद्रों में नहीं गए. उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग को गड़बड़ी वाली इलेक्ट्रोनिक वोटिंग मशीनों की जांच करानी चाहिए.

इसके अलावा देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि हम बीजेपी-शिव सेनाव गठबंधन के खिलाफ नहीं है और न ही हम चाहते हैं कि यह गठबंधन नहीं टूटे इसके लिए कोशिशें दोनों तरफ से होनी चाहिए. हम शिवसेना से बातचीत के लिए तैयार है.

पालघर में मिली बीजेपी को जीत
बता दें महाराष्ट्र में उपचुनावों में बीजेपी को सिर्फ पालघर से ही खुशखबरी आई. पालघर लोकसभा सीट से बीजेपी उम्मीदवार राजेंद्र गावित जीते हैं. निर्वाचन अधिकारी प्रशांत नरनावारे द्वारा आज मतगणना के बाद घोषित चुनाव परिणाम के अनुसार गावित को 2,72,782 वोट मिले जबकि उनके निकटतम प्रतिद्वंद्वी श्रीनिवास चिंतामन वनगा को 2,43,210 मत प्राप्त हुए.तीसरे स्थान पर रहे बहुजन विकास आघाडी के उम्मीदवार बलीराम जाधव को 2,22,838 मत मिले.

बीजेपी सांसद चिंतामन वनगा के निधन के बाद इस सीट पर उपचुनाव कराया गया. शिवसेना ने वनगा के बेटे श्रीनिवास वनगा को टिकट दिया था जबकि बीजेपी ने पूर्व कांग्रेस मंत्री गावित को चुनाव मैदान में उतारा था.

भंडारा गोंदिया से NCP उम्मीदवार मधुकरराव जीते
वहीं महाराष्ट्र की भंडारा गोंदिया लोकसभा सीट पर हुये उपचुनाव में गुरुवार को अंतिम दौर की मतगणना के बाद राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के उम्मीदवार कुकडे मधुकरराव यशवंतराव चुनाव जीतने में कामयाब रहे. निर्वाचन आयोग द्वारा महाराष्ट्र के मुख्य निर्वाचन अधिकारी अश्विनी कुमार की ओर से इस सीट पर अंतिम दौर की मतगणना के मुताबिक मधुकरराव को निकटतम उम्मीदवार भाजपा के हेमंत पाटले से 48097 वोट अधिक मिले.

राव को 442213 और पाटले को 394116 वोट मिले. उल्लेखनीय है कि 2014 के आम चुनाव में भाजपा के नाना पटोले इस सीट से विजयी हुए थे . पाटोले द्वारा भाजपा छोड़कर लोकसभा की सदस्यता से इस्तीफा देने के कारण इस सीट पर उपचुनाव कराया गया.

वहीं पलूस काडेगांव विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में कांग्रेस को निर्विरोध जीत मिली है.