नई दिल्ली : मुंबई में इन दिनों आसमान से बारिश नहीं बल्कि आफत बरस रही है. मुंबई के अधिकांश इलाके तालाब या झील बन गए हैं. नालासोपारा का ज्यादातर हिस्सा पानी में डूब गया है. यहां पानी में यात्रियों से भरी वडोदरा एक्सप्रेस भी फंस गई. पूरा ट्रैक पानी में डूबने के कारण नालासोपारा और विरार के बीच फंस गई. यात्रिंयों को सुरक्षित निकालने के लिए एनडीआरएफ की मदद ली गई. एनडीआरएफ की टीम में रेस्क्यू ऑपरेशन चलाकर ट्रेन में फंसे 411 यात्रियों को सुरक्षित निकाल लिया है. राहत और बचाव का काम अभी भी जारी है.

बता दें कि मुंबई में पिछले चार दिनों से लगातार बारिश हो रही है. सोमवार की रात मुंबई के अधिकांश इलाकों में जोरदार बारिश हुई. भारी बारिश के चलते स्कूल-कॉलेजों को अगले आदेश तक के लिए बंद कर दिया गया है. जोगेश्वरी, अंधेरी, सांताक्रूज, दहीसर, बोरिवली, मलाड, कुर्ला, परेल, दादर, चेंबुर, किंग सर्किल, घाटकोपर, पोवाई, भांडुप समेत कई जगहों पर पानी जमा हो गया है.

पश्चिमी रेलवे की उपनगरीय सेवाओं को भी रोक दिया गया है. बीती रात 200 एमएम बारिश दर्ज की गई. बारिश के कारण कई इलाकों में रेल की पटरियां पानी में डूब गई हैं. सुरक्षा को देखते हुए इन लाइनों पर रेल सेवाएं फिलहाल रोक दी गई हैं.

सबसे ज्यादा बारिश नालासोपारा इलाके में दर्ज की गई. यहां ट्रेन के ट्रैक पर 400 मिलीमीटर बारिश का पानी जमा हो गया. बारिश के कारण इस टैक पर चलने वाली तमाम ट्रेन सेवाओं में रुकावट आई है.  जिस वजह से मुंबई पहुंचने वाली तमाम ट्रेनें बाधित हुई हैं. यहां से मुंबई की तरफ जाने वाली वडोदरा एक्सप्रेस ट्रैक पर ही फंस गई.

ट्रेन में फंसे यात्रियों की मदद के लिए रेलवे प्रशासन ने कोस्ट गार्ड और एनडीआरएफ की मदद ली गई. यहां यात्री कई घंटे पानी में फंसे रहे. ट्रेन में फंसे यात्रियों को नाश्ते के पैकेट भिजवाए गए. मौके पर पहुंची एनडीआरएफ की टीम ने ट्रेन से यात्रियों को निकालकर नाव की मदद से सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया. समाचार लिखे जाने तक 411 यात्रियों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा दिया गया था. रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है. ट्रेन में फंसी एक महिला यात्री ने बताया कि वह यहां सोमवार की रात 3 बजे से फंसी हुई थी. मंगलवार की दोपहर एनडीआरएफ की टीम आई और उन्हें तथा अन्य यात्रियों को यहां से निकालकर सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया है.

रेलवे प्रशासन के मुताबिक, 1 दर्जन से अधिक ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है और कई ट्रेनों के टाइम में बदलाव किया गया है और कुछ की दूरी कम की गई है. मुंबई से दूसरे राज्यों में जाने वाली 6 ट्रेनें के मार्ग में बदलाव किया गया है. वसाई-विरार सेक्टर में पश्चिमी रेलवे की सेवाएं रद्द कर दी गईं हैं. पश्चिमी रेलवे के प्रवक्ता ने बताया कि कई स्टेशनों पर फंसे हजारों यात्रियों को खाने के पैकेट और पानी बांटा जा रहा है.

बारिश के कारण हवाई और सड़क यातायात भी प्रभावित हुआ है. कई हवाई सेवाओं को रद्द किया गया है और कुछ फ्लाइट्स अपने तय समय से काफी देरी से चल रही हैं. सड़कों पर जाम के हालात बने हुए हैं.

मौसम विभाग ने हाई टाइड की भी चेतावनी जारी की हुई है. लोगों को समुद्र के किनारे से दूर रहने की सलाह दी गई है. मुंबई प्रशासन ने लोगों को घरों में ही रहने की सलाह दी है. प्रशासन ने कहा है कि जब तक बहुत जरूरी ना हो, घरों से ना निकला जाए.