सतना: मामा के प्रदेश से एक शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है। सूबे की एक होनहार छात्रा को शिवराज सरकार की तरफ से तोहफे में मिला लैपटॉप चलाना महंगा पड़ा गया। छात्रा के घर में सिंगल फेज़ कनेक्शन है। उसने इस कनेक्शन से लैपटॉप चलाया तो बिजली विभाग के कर्मचारियों ने उस पर बिजली चोरी का केस बना दिया। इतना ही नहीं कर्मचारियों ने उस 13 हजार का जुर्माना भी लगाया।

मामला सतना जिले के बिरसिंहपुर का है। दरअस होनहार साक्षी ने 12वीं क्लास में 87 प्रतिशत अंक हासिल किए। मुख्यमंत्री मेधावी छात्र योजना के तहत साक्षी को लैपटॉप के लिए 25,000 रुपए मिले तो पूरा परिवार खुशी से झूम उठा। लेकिन अब पूरा परिवार शर्मसार है। घर में सिंगल फेज़ कनेक्शन है। इससे उसने लैपटॉप चलाया तो बिजली विभाग ने बिजली चोरी का मामला बना दिया और 13 हज़ार रुपए का नोटिस थमा दिया। पूरा परिवार अब बिजली चोरी के केस में फंस गया है।

दरअसल साक्षी ने इस लैपटॉप के ज़रिए जरूरतमंदों की मदद की और बदले में कुछ पैसे भी कमाए। इसलिए साक्षी अब मुख्यमंत्री को लैपटॉप वापस करना चाहती है। 19 जुलाई को मुख्यमंत्री बिरसिंहपुर जन आशीर्वाद यात्रा लेकर आ रहे हैं। साक्षी अपने पिता के साथ जाकर मामा को लैपटॉप वापस करना चाहती है।