नई दिल्लीः नरम ग्लोबल संकेतों और कमजोर लोकल मांग के कारण आज दिल्ली सर्राफा बाजार में सोने में गिरावट देखी गई है. घरेलू बाजार में सोना 25 रुपये टूटकर 31,090 रुपये प्रति 10 ग्राम पर आ गया. वैश्विक स्तर पर सोना के सात महीने के निचले स्तर पर आ जाने और डॉलर के दो सप्ताह के उच्चतम स्तर पर पहुंच जाने से घरेलू बाजार में भी सेंटीमेंट पर असर देखा गया. पिछले चार दिन में यह 535 रुपये गिर चुका है.

क्यों आई सोने में गिरावट
अमेरिका में ब्याज दर बढ़ने की आशंका से भी कीमती धातुओं की मांग में गिरावट रही. कारोबारियों ने कहा कि घरेलू हाजिर बाजार में स्थानीय आभूषण निर्माताओं की मांग गिरने से भी कीमतों पर दबाव रहा.

ग्लोबल बाजार और दिल्ली में सोने के दाम
वैश्विक स्तर पर कल न्यूयॉर्क में सोना 0.47 फीसदी गिरकर 1241 डॉलर प्रति औंस पर आ गया है. स्थानीय बाजार में सोना 99.9 फीसदी और 99.5 फीसदी शुद्धता वाला सोना 25-25 रुपये गिरकर क्रमश: 31,090 रुपये और 30,940 रुपये प्रति 10 ग्राम पर आ गया है. हालांकि आठ ग्राम वाली गिन्नी 24,800 रुपये प्रति इकाई पर टिकी रही.

कैसे रही चांदी की चाल
इंडस्ट्रियल यूनिट्स और सिक्का मैन्यूफैक्चर्रस की मांग कम होने से चांदी हाजिर 115 रुपये टूटकर 39,915 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गयी. साप्ताहिक आपूर्ति वाली चांदी भी 220 रुपये की गिरावट के साथ 39,045 रुपये प्रति किलोग्राम बोली गयी. वैश्विक बाजार में न्यूयॉर्क में चांदी 0.88 फीसदी लुढ़ककर 15.79 डॉलर प्रति औंस पर आ गयी. हालांकि चांदी के सिक्कों में टिकाव रहा. सिक्का लिवाल 74 हजार रुपये और सिक्का बिकवाल 75 हजार रुपये प्रति सैकड़ा रहे.