रामबन: रामबन जिले के मकरकूट गांव में गौरक्षकों ने एक 65 साल के बुजुर्ग पर हमला कर दिया. इस हमले में बुजुर्ग बुरी तरह घायल हो गए. घायल बुजुर्ग को बनिहाल जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है. बुजुर्ग की पहचान अब्दुल हमीद शेख के तौर पर हुई है. वे रामसू तहसील के मकरकूट गांव के रहने वाले हैं. जानकारी के मुताबिक, अब्दुल हमीर ने बाटरू गांव से घर में पालने के लिए एक भैंस खरीदी जिसे वो अपने गांव मकरकूट ले जा रहे थे. बाटरू गांव से करीब तीन किलोमीटर आगे बढ़ने पर गौरक्षकों ने उनपर हमला कर दिया और बुरी तरह पीटा.

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, हमला करने वाले गौरक्षकों में महिलाएं भी शामिल थीं. अब्दुल हमीद ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि गौरक्षकों ने मुझसे 70 हजार रुपए भी छीन लिए. रामसू पुलिस ने इस मामले में FIR दर्ज कर 3 लोगों को गिरफ्तार किया है. आगे की कार्रवाई जारी है. गिरफ्तार लोगों के नाम परबत सिंह, संदीप सिंह और धरम सिंह हैं.

गोरक्षा के नाम पर मॉब लिंचिंग की घटनाएं काफी बढ़ गई हैं. इन्हीं वजहों से पिछले दिनों सुप्रीम कोर्ट ने साफ-साफ कहा था कि किसी भी सूरत में मॉब लिचिंग की घटनाओं को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. लोकतंत्र को भीड़तंत्र में बदलने की इजाजत नहीं दी जा सकती है. इसके लिए सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को कानून बनाने को कहा था.