नई दिल्ली: राज्यसभा के उपसभापति पद के लिए विपक्षी दलों ने एनसीपी नेता वंदना चव्हाण को अपना उम्मीदवार बनाया है. माना जा रहा है कि आगामी लोकसभा चुनावों के दौरान नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी के प्रमुख शरद पवार की प्रमुख भूमिका को देखते हुए एनसीपी की प्रत्याशी पर सभी की सहमति बनी है.

दूसरी ओर भाजपा की अगुवाई वाले एनडीए ने जेडीयू के हरिवंश को अपना उम्मीदवार बनाया है. उपसभापति पद के लिए राज्यसभा में नौ अगस्त को मतदान होगा. फिलहाल सत्ता पक्ष और विपक्ष दोनों के पास जीत के लिए जरूरी आंकड़ा नहीं है और ऐसे में सबकी निगाहें बीजू जनता दल (बीजेडी) पर है. राज्यसभा में बीजेडी के नौ सांसद हैं.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार विपक्ष की प्रत्याशी के रूप में वंदना चव्हाण के नाम की घोषणा मंगलवार शाम तक की जा सकती है. अटकल हैं कि शिवसेना उनका समर्थन कर सकती है, हालांकि अभी पार्टी की तरफ से ऐसा कुछ नहीं कहा गया है. वंदना चव्हाण 2012 से राज्यसभा की सदस्य हैं. आइए जाने उनके बारे में पांच खास बातें-

1. 57 वर्षीय वंदना चव्हाण पुणे की मेयर रह चुकी हैं.

2. वंदना चव्हाण की बहन विनीता काम्टे का विवाह पुलिस अधिकारी अशोक काम्टे के साथ हुआ था, जो मुंबई में 26/11 के आतंकवादी हमले के दौरान शहीद हुए थे.

3. उनके पिता विजयराव मोहिते जानेमाने वकील थे. उनकी मां जयश्री मोहिते पार्ट-टाइम लेक्चरर थीं. उनके पति हेमंत चव्हाण भी वकील हैं.

4. वो सिम्बायोसिस लॉ कॉलेज पुणे में पढ़ा चुकी हैं और पुणे बार एसोसिएशन की सचिव भी रह चुकी हैं.

5. उन्होंने एक किताब भी लिखी है, जिसका नाम है - लॉ ऑफ क्रूअलिटी, अबेटमेंट ऑफ सुसाइड एंड डॉवरी डेथ.