सियोल: सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक कंपनी लिमिटेड ने एलान किया है कि चीन में मौजूद अपने प्लांट में वो सैमसंग स्मार्टफोन के उत्पादन को पूरी तरह से बंद कर देगा. कंपनी ने कहा है कि वो ऐसा इसलिए कर रहा है क्योंकि चीन में फोन की सेल पर असर पड़ रहा है तो वहीं लेबर कॉस्ट भी काफी ज्यादा है जिससे कंपनी को नुकसान हो रहा है. इस रिपोर्ट का खुलासा इलेक्ट्रॉनिक टाइम्स ने किया है.

साउथ कोरियन अखबार ने कहा कि वो इसी साल से टियानजिन सैमसंग टेलीकॉम टेकनॉल्जी में अपने स्मार्टफोन का उत्पादन पूरी तरह से बंद करेगा.

दुनिया की सबसे बड़ी स्मार्टफोन मेकर कंपनी ने कहा कि स्मार्टफोन मार्केट में सैमसंग का प्रदर्शन थोड़ा धीमा हुआ है. जिसकी वजह से हमें ये कदम उठाना पड़ रहा है. हम फिलहाल आगे आने वाले अपने काम पर फोकस कर रहे हैं. पांच साल पहले चीन में सैमसंग का मार्केट 20 प्रतिशत तक था जो अब गिरकर 1 प्रतिशत से भी नीचे हो गया है. इसमें सबसे बड़ा हाथ हुवावे और शाओमी का है जिसने नंबर वन कंपनी को कीमत में मात दे दी है.

पिछले कुछ सालों में सैमसंग ने मोबाइल फोन इंवेस्टमेंट पर ज्यादा ध्यान दिया है जिसमें वियतनाम और भारत जैसे देश शामिल हैं. सैमसंग ने इस साल नई दिल्ली के बाहर दुनिया का सबसे बड़े स्मार्टफोन फैक्ट्री खोला जो एक एक्सपोर्ट हब के रूप में काम करेगा.

इलेक्ट्रॉनिक टाइम्स के अनुसार टीयानजिन प्लांट चीन में एक साल में कुल 36 मिलियन स्मार्टफोन का उत्पादन करता है तो वहीं हुईहो प्लांट एक साल में 72 मिलियन. जबकि वियनाम के दो फैक्ट्री एक साल में 240 मिलियन स्मार्टफोन का उत्पादन करते हैं.