काठमांडूः कैलाश मानसरोवर यात्रा दौरान एक भारतीय तीर्थयात्री की मौत के बाद नेपाल के नागरिक उड्डयन प्राधिकरण ने एक निजी हैलीकॉप्टर कंपनी की उड़ानों का परिचालन निलंबित कर दिया है। बता दें कि देश के हिल्सा क्षेत्र में हेलीकॉप्टर की पंखुड़ी की चपेट में आने से भारतीय तीर्थयात्री की मौत हो गई थी। नेपाल के नागरिक उड्डयन प्राधिकरण (सीएएएन) ने कहा कि एयर ऑपरेटर्स सर्टिफिकेट (एओसी) प्राप्त होने के बाद मनांग एयर को वाणिज्यिक तौर पर उड़ानों के परिचालन का लाइैंसस दिया गया था।

एक अधिकारी के मुताबिक तकनीकी टीम घटनास्थल से साक्ष्य इकट्ठा करके लौट चुकी है। संस्कृति, पर्यटन और नागरिक उड्डयन मंत्रालय के प्रवक्ता घनश्याम उपाध्याय के मुताबिक मंत्रालय ने हादसे की जांच के लिए संयुक्त सचिव बुद्धि सागर लमिछाने की अगुवाई में एक चार सदस्यीय समिति का गठन किया है।

मुंबई के रहने वाले  कार्तिक नागेंद्र कुमार मेहता (44) हेलीकॉप्टर में चढ़ने के लिए बढ़ रहे थे, लेकिन दुर्घटनावश वह उसकी पंखुड़ी के चपेट में आ गए थे। पिछली पंखुडी की चपेट में आने से मेहता का सिर धड़ से अलग हो गया था। समिति को अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करने के लिए 30 दिन का समय दिया गया है।