नई दिल्ली: आंध्र प्रदेश के कुरनूल जिले में देर रात शराब पीकर गाड़ी चला रहे छह लोगों ने वन विभाग के अधिकारी के साथ दुर्व्यवहार किया. इन लोगों का दावा था कि उनके साथ कांग्रेस विधायक के बेटे हैं और उनके गुस्से की वजह बस इतनी थी कि वन विभाग के सब इंस्पेक्टर ने उन्हें शराब पीने से रोकने की 'हिमाकत' की थी.

This is the punishment for a Police Sub inspector in Kurnool, Andhra for checking the car of the son of a Congress MLC.
He was made to touch the feet of the Congress Goonda in full uniform .
Pathetic! Aren't you ashamed of yourself?
Mr @RahulGandhipic.twitter.com/5ztQd0TXfS

— Mahesh Vikram Hegde (@mvmeet) August 21, 2018

इन लोगों ने वन विभाग के सब इंस्पेक्टर ज्योति स्वरूप को बुरी तरह से पीटा और गालीगलौज की. वो इतने पर ही  नहीं रुके, बल्कि तथाकथित कांग्रेस एमएलसी के बेटे के पैरों पर गिरकर माफी मांगने को मजबूर किया. ये लोग श्रीशैलम जा रहे थे. हालांकि घटना की जानकारी मिलने पर पुलिस सक्रिय हुई और इनमें से पांच लोगों को हिरासत में ले लिया गया. एक आदमी भागने में कामयाब रहा. ज्योति स्वरूप को स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है

अधिकारियों के अनुसार युवाओं ने अपनी कार वन विभाग के कार्यालय के पास खड़ी की और शराब पीने लगे. ड्यूटी पर तैनात स्वरूप ने उनसे कहा कि जंगल में शराब पीना मना है. इसके साथ ही स्वरूप ने उसने अपने पहचान पत्र देने के लिए कहा. इसके बाद उन युवाओं ने उनके साथ दुर्व्यवहार शुरू कर दिया और उन्हें गाली देने लगे.

उनमें से एक ने कहा 'एक एमएलसी के बेटे से सवाल करने की तुम्हारी हिम्मत कैसे हुई?' वीडियो में दिख रहा है कि इन लोगों की गुंडई के आगे स्वरूप एकदम असहाय थे और किसी तरह खुद को बचाने की कोशिश कर रहे थे. जिस व्यक्ति को लेकर दावा किया जा रहा था कि वो एमएलसी का बेटा है, स्वरूप ने उसके आगे हाथ जोड़े, लेकिन बाद में उन्हें उस व्यक्ति के पैरों पर गिरने के लिए मजबूर किया गया. अदालत ने इन लोगों को 30 अगस्त तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया है.