इंदौर: मध्यप्रदेश के इंदौर से पुलिस ने पिछले एक हफ्ते में बिहार के दो फर्जी उम्मीदवारों को गिरफ्तार किया है, जो अन्य लोगों के स्थान पर रेलवे भर्ती परीक्षा में बैठे थे। इस धर-पकड़ के बाद भर्ती परीक्षा में किसी बड़े गिरोह के सक्रिय होने के संदेह में विस्तृत जांच की जा रही है।

पलासिया पुलिस थाने के प्रभारी अजीत सिंह बैस ने आज बताया कि रेलवे भर्ती बोर्ड (आरआरबी) की जारी परीक्षा में गड़बड़ी के सिलसिले में पकड़े गये आरोपियों की पहचान धीरज कुमार (21) और रंजीत प्रसाद (22) के रूप में हुई है। दोनों आरोपी बिहार के नालंदा जिले के रहने वाले हैं।

उन्होंने बताया कि पलासिया क्षेत्र के इस्लामिया करीमिया कॉलेज में बनाये गये केंद्र में धीरज कुमार को अभिमन्यु कुमार के स्थान पर रेलवे भर्ती परीक्षा देते कल पकड़ा गया। इससे पहले, इसी परीक्षा में रंजीत प्रसाद को संतोष कुमार की जगह शामिल होते वक्त 14 अगस्त को इसी केंद्र में पकड़ा गया था।

बैस ने बताया कि हम विस्तृत जांच के जरिये पता लगा रहे हैं कि इस फर्जीवाड़े के पीछे कोई बड़ा गिरोह तो सक्रिय नहीं है. हमने उन लोगों को गिरफ्तार करने के लिये अपने दल को बिहार भी भेजा है, जिनके स्थान पर दोनों आरोपी रेलवे भर्ती परीक्षा में बैठे थे।