नई दिल्लीः घर खरीदारों को राहत देते हुए सुप्रीम कोर्ट ने यूनिटेक को अहम फैसला सुनाया है। कोर्ट ने दिल्ली हाई कोर्ट के पूर्व जस्टिस एसएन ढींगरा की अगुवाई में गठित पैनल को घर खरीदारों का पैसा लौटाने के लिए कंपनी के डायरेक्टर्स की कर्जमुक्त संपत्तियों को बेचने की अनुमति दे दी है।

चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली पीठ ने पैनल से कहा कि यूनिटेक की कोलकाता में स्थित संपत्तियों को बेच दिया जाए और खरीददारों में समानुपातिक आधार पर 25 करोड़ रुपए फिलहाल बांट दिए जाएं। मामले की अगली सुनवाई 11 सितंबर को होगी।

बता दें कि यूनिटेक के प्रबंध निदेशक संजय चंद्रा अपने भाई अजय चंद्रा के साथ जेल में बंद है। इनके खिलाफ कंपनी की गुरुग्राम स्थित परियोजनाओं के 158 खरीदारों ने आपराधिक मुकदमा दर्ज कराया हुआ है।

खरीदारों के अलावा आयकर विभाग ने भी कंपनी पर 950 करोड़ रुपए का कर बकाया होने के चलते खुद को इस मामले में एक पार्टी बनाए जाने का आग्रह सर्वोच्च न्यायालय से किया हुआ है।