कटनी : आपने झमाझम बारिश के बीच ‘थ्री इडियट’ फिल्म में महिला का प्रसव कराने का सीन तो देखा होगा, लेकिन छत्तीसगढ़ संपर्क क्रांति एक्सप्रेस के स्लीपर कोच एस-थ्री में इसका रियल सीन देखने मिला। जिससे साबित होता है कि अगर फिल्म सही मैसेज दे तो कभी-कभी यह किसी के जीवन रक्षक भी बन जाती है। यहां एक महिला को प्रसव पीड़ा हुई तो फिल्म ‘थ्री इडियट’ की तर्ज पर सह यात्रियों सफल प्रसव करवाया।

जानकारी के अनुसार छत्तीसगढ़ निवासी कुमारी यादव अपने पति के साथ ट्रेन नंबर 12824 (छत्तीसगढ़-संपर्क क्रांति) से घर लौट रही थी। ललितपुर-सागर स्टेशन के बीच रविवार की रात करीब 12 बजे उसे प्रसव पीड़ा हुई। कुमारी ने प्रसव पीड़ा की बात पास ही बर्थ में बैठी महिला सह यात्री रफत खान को बताई। रफत ने तत्काल आसपास बैठे यात्रियों को जगाया और इसकी सूचना टीसी स्टॉफ को दी। लेकिन ट्रेन का स्टॉपेज कम होने के कारण चिकित्सकीय मदद मिलने की संभावना कम ही दिख रही थी और महिला को दर्द बढ़ता जा रहा था।

ट्रेन में दिल्ली से कटनी लौट रहे अनुज जायसवाल व नीरज बर्मन ने रफत समेत अन्य सह यात्रियों को एक वीडियो दिखाया और कहा कि हम लोग भी ‘थ्री इडियट’ फिल्म की तर्ज पर महिला का प्रसव करा सकते हैं। अनुज की इस बात से सभी को हौंसला मिला। फिर क्या था, चलती ट्रेन में ही बैडशीट का घेरा बनाया और प्रसव कराने में सफलता हासिल की। रात 12 बजकर 48 मिनट पर महिला ने एक बच्ची को जन्म दिया। अब जच्चा-बच्चा दोनों सुरक्षित हैं।