कुछ दिनों पहले बॉलीवुड एक्ट्रेस दिशा पटानी की पीठ पर लाइट ब्राउन कलर के निशान देखे गए थे । ये निशान देखने में भद्दे जरूर लग रहे थे। आपको जानकर हैरानी होगी कि दिशा की पीठ पर पड़े ये निशान उनके द्वारा करवाई गई थैरेपी के कारण थे। यह कपिंग थैरेपी बहुत ही दर्दनाक है। इसको करवाने से ना सिर्फ स्किन से डैड सैल्स बाहर निकलते हैं बल्कि कई हैल्थ बैनिफिट्स भी होते हैं।

कैसे होती है कपिंग थैरेपी

कांच के छोटे कप को गर्म करना उसके बाद इन्हें स्किन पर रखना और इन्हें शरीर से दूर खींचना ताकि मांसपेशियों को आराम मिल सके

थैरेपी करवाने होने वाले फायदे

1. ब्लड सर्कुलेशन ठीक होना
इस थैरेपी को करवाने से ब्लड सर्कुलेशन ठीक रहता है। इसके साथ ही यह थैरेपी खून में मौजूद विषैल पदार्थों को खत्म करके दूषित तत्वों को बाहर निकालती है। इससे नए और शुद्ध खुन का निर्माण होता है जो हमें कई बीमारियों से दूर रखने का काम करती हैं।

2. दर्द से आराम
कपिंग थैरेपी करवाने से माइग्रेन के दर्द, पीठ दर्द और गर्दन के दर्द से राहत मिलती है। इसको सूजन वाली जगह पर लगाने से टिशू को आराम मिलता है। अगर आप किसी भी प्रकार के दर्द से परेशान हैं तो इस थैरेपी को जरूर करवाएं।

3. सर्दी, खांसी और एलर्जी से राहत
कपिंग थैरेपी सर्दी, खांसी और एलर्जी को ठीक करने का काम करता है। इसके साथ ही यह रोग-प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाता है।

4. सूजन को कम करना
यह तरीका शरीर में पड़ी गांठों को ठीक करके सूजन को कम करता है। यही कारण है कि आजकल बहुत से एथलिट इस थेरेपी का इस्तेमाल कर रहे हैं। यह बहुत अधिक कसरत करने के बाद यह उनके शरीर को तीव्रता से सामान्य करता है।