नई दिल्ली: अखिल भारतीय हिंदू महासभा (एबीएचएम) की आधिकारिक वेबसाइट को 'टीम केरल साइबर वारियर्स' कथित नाम वाले संगठन ने शुक्रवार को हैक कर लिया. संस्था की वेबसाइट के होम पेज पर 'मसालेदार बीफ करी' की रेसिपी और तस्वीर डाल दी गई.

माना जा रहा है कि एबीएचएम के प्रमुख स्वामी चक्रपाणि के इस विवादित बयान की प्रतिक्रिया में वेबसाइट को हैक किया गया कि केरल में जो लोग बीफ नहीं खाते हैं, केवल उनकी ही मदद की जाएगी. केरल बाढ़ पीड़ितों की मदद को लेकर दिए गए उनके इस बयान के बाद एबीएचएम की वेबसाइट को हैक करके उस पर बीफ की तस्वीर लगा दी गई.

वेबसाइट के हैक होने के बाद उस एक संदेश भी फ्लैश कर रहा है, 'हम लोगों का सम्मान उनके चरित्र की वजह से करते हैं और खाने की आदतों की वजह से नहीं.' स्वामी चक्रपाणि ने कहा था कि कुछ लोगों द्वारा गायों की हत्या और उनके मांस की बिक्री के चलते कई निर्दोष लोग मारे गए. उन्होंने केरल में आई बाढ़ को गाय के अपमान और उसकी हत्या का परिणाम माना था.

उन्होंने एक टीवी चैलन पर कहा, 'उनके दुष्कर्म का खामियाजा निर्दोष लोगों को उठाना पड़ रहा है. जो लोग गाय का मांस खाते हैं या जो गाय की हत्या में शामिल हैं, उन्हें किसी भी तरह की बाढ़ राहत नहीं देनी चाहिए, चाहें वो सरकारी सहायता हो या किसी अन्य प्रकार की.' अगर कोई इमरजेंसी हो तो पहले उन्हें शपथ लेने होगी कि वो भविष्य में मांस नहीं खाएंगे. उसके बाद ही उनकी सहायता की जाए.

केरल इस समय बाढ़ की भीषण त्रासदी का सामना कर रहा है और अब तक 230 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है. कई लोग घायल हुए हैं और बड़ी संख्या में लोग अभी भी राहत शिविरों में शरण लिए हुए हैं.