साउथम्पटन: इंग्लैंड के कप्तान जो रूट ने आज कहा कि बेन स्टोक्स गेंदबाजी की अपनी जिम्मेदारी निभाने के लिए पूरी तरह से फिट नहीं हैं जिसके कारण उनकी टीम को भारत के खिलाफ शुरू होने वाले चौथे टेस्ट मैच के लिए मोईन अली को टीम में रखना पड़ा. रूट ने मैच की पूर्व संध्या पर कहा कि पिछले सप्ताह की टीम में दो बदलाव किए गए हैं. क्रिस वोक्स की जगह सैम कुरेन को लिया गया है और बेन गेंदबाजी के लिहाज से शतप्रतिशत फिट नहीं है और इसलिए टीम का संतुलन बनाने के लिए ओली पोप की जगह मोईन अली को टीम में रखा गया है.  तीसरे टेस्ट मैच के दौरान स्टोक्स के घुटने में चोट लग गयी थी.

रूट ने कहा, ‘‘मोईन जैसा खिलाड़ी काउंटी क्रिकेट में लौटता है और दोहरा शतक जमाने के साथ ही छह विकेट लेता है. सैम भी सर्रे की तरफ से खेल रहा था और उसके पास अब एक और मौका है. किसी भी समय आप वापसी से बहुत ज्यादा दूर नहीं रहते हो.’’

इंग्लैंड पांच मैचों की सीरीज में अभी 2-1 से आगे चल रहा है. उसे पिछले मैच में हार का सामना करना पड़ा लेकिन रूट को विश्वास है कि उनकी टीम वापसी करने में सफल रहेगी. उन्होंने कहा कि पिछले सप्ताह हम अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए थे. हमारी सबसे मजबूती हमारा जज्बा है तथा विशेषकर घरेलू परिस्थितियों में वापसी करने में हमारा रिकॉर्ड बहुत अच्छा है. हम पहले भी ऐसा करते रहे हैं और उम्मीद है कि इस बार भी ऐसा होगा.

इंग्लैंड क्रिकेट टीम के कप्तान जोए रूट का कहना है कि उनकी टीम मजबूत जवाब के साथ भारत के खिलाफ चौथे टेस्ट मैच में वापसी करेगी. वेबसाइट 'ईएसपीएन' की रिपोर्ट के अनुसार, रूट ने कहा कि टीम के शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों को बेहतर प्रदर्शन करना होगा. उल्लेखनीय है कि भारत ने ट्रेंट ब्रिज मैदान पर खेले गए तीसरे टेस्ट मैच में इंग्लैंड को 203 रनों से हरा दिया. इस जीत के साथ अपना खाता खोलते हुए भारत ने स्कोर 1-2 कर लिया है. दोनों टीमों के बीच दो टेस्ट मैच और खेले जाने हैं.

भारत और इंग्लैंड के बीच चौथा टेस्ट मैच साउथहैम्पटन में 30 अगस्त से खेला जाएगा. ऐसे में रूट आश्वस्त हैं कि उनकी टीम अच्छी वापसी करेगी. रूट ने कहा, "अगर आप सीरीज को देखें, तो आपको पता चलेगा कि कुछ परिस्थितियां हमारे लिए चुनौतीपूर्ण थीं. हमारे पास शीर्ष क्रम में काफी अच्छे बल्लेबाज हैं और अब हमारे पास व्यक्तिगत रूप से अपने प्रदर्शन के बारे में सोचने का समय भी है. आशा है कि हम मजबूत प्रतिक्रिया के साथ वापसी करेंगे."

कप्तान रूट ने कहा, "हमारे लिए तीसरा टेस्ट मैच हमारी गलतियों से सीखने का सही मौका है. हमें यह आश्वस्त करना है कि साउथम्प्टन में हम अपने आप को बेहतर मौका देते हुए पहली ही पारी में 400 का स्कोर खड़ा करें. इसके अलावा स्कोरबोर्ड पर भी दवाब रखने की कोशिश करें. शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों के अच्छा प्रदर्शन करना होगा.