न्यूयॉर्क : सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बुधवार को गूगल के भारत में जन्मे मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) सुंदर पिचई से उनके कार्यालय में मुलाकात की. इस दौरान मंत्री ने उनके साथ भारत में कंप्यूटर में भारतीय भाषाओं के प्रयोग और आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस के इस्तेमाल आदि के जरिए से हर जगह के व्यक्ति के लिए इंटरनेट का इस्तेमाल आसान बनाने और भारतीय उपयोगकर्ताओं को सशक्त बनाने के लिए प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल की कंपनी की योजनाओं पर चर्चा की.

अमेरिकी यात्रा पर आए प्रसाद कल गूगल के कैलिफोर्निया के माउंटेन व्यू मुख्यालय गए. गूगल ने एक बयान में कहा कि प्रसाद ने कंपनी के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ मुलाकात की. इस बैठक के दौरान भारतीय प्रयोगकर्ताओं को सशक्त करने के लिए प्रौद्योगिकी की भूमिका पर चर्चा हुई. प्रसाद को बताया गया कि गूगल की योजना पूरे भारत में लोगों के लिए इंटरनेट का इस्तेमाल सरल बनाने की योजना है.

प्रसाद को भारत में हर जगह के लोगों के लिए इंटरनेट का इस्तेमाल आसान करने, भारतीय भाषाओं में कंप्यूटर के परिचालन, सामाजिक लाभ के लिए यांत्रिक बुद्धि आधारित समाधान तथा नौ प्रवर्तन आधारित सोच के आधार पर शुरू की गई इकाइयों (स्टर्टअप्स) और मझोली इकाइयों की क्षमता बढ़ाने की गूगल की योजनाओं की जानकारी दी गई.