वेलिंगटन: अगर कोई देश अपने यहां बिल्ली जैसे जानवर को पालने पर ही प्रतिबंध लगा दे तो आप क्या कहेंगे. ऐसा हुआ है न्यूजीलैंड के एक प्रांत में. न्यूजीलैंड के दक्षिण राज्य ने अजीबोगरीब प्रस्ताव को पारित करते हुए बिल्ली पालने पर प्रतिबंध लगा दिया है. बिल्ली को पालने पर प्रतिबंध के पीछे कारण भी बताया गया है. इसमें कहा गया है कि ऐसा इसलिए किया जा रहा है, क्योंकि हम अपने मूल जानवरों की प्रजाति को बचाना चाहते हैं. न्यूजीलैंड के ओमायु प्रांत की काउंसिल ने नया प्लान बनाया है. इसके तहत इस प्रांत में जिन घरों में भी बिल्लियां हैं, उन्हें चिप लगाई जाएगी और उनका नाम रजिस्टर्ड किया जाएगा.

इसके बाद जब उस बिल्ली की मौत हो जाएगी, तो वह घर दोबारा से बिल्ली नहीं पाल पाएगा. ओमायु लैंडकेयर के जॉन कोलिंस का कहना है कि हम बिल्लियों से नफरत करने वाले नहीं हैं. लेकिन हम इस मामले में नियम बनाना चाहते हैं. और मैं ये कहना चाहूंगा कि ये जगह बिल्लियों के लिए नहीं है.

काउंसिल के बायोसिक्युरिटी ऑपरेशन मैनेजर अली मेइडे के अनुसार, अगर ये प्रस्ताव पारित हो जाता है और सही ढंग से लागू हो जाता है तो पक्षियों के लिए बहुत अच्छा होगा. उनका जीवन चक्र इस कारण बढ़ जाएगा. ये प्लान अक्टूबर के अंत तक लागू किया जा सकता है. हालांकि कुछ लोग सरकार के इस प्लान से खुश नहीं हैं.

इस प्रांत की रहने वाली निको जारविस का कहना है कि मैं बहुत शॉक्ड हूं कि उन्होंने ऐसा प्रस्ताव दिया है. हम इस प्लान के खिलाफ अपील करने की सोच रहे हैं. वह कहती हैं कि हमारे पास 3 बिल्लियां हैं. इस इलाके में मौजूद चूहों की बड़ी फौज से निपटने में यही हमारी मददगार हैं. अगर हमारे पास एक भी बिल्ली नहीं होगी तो हम यहां कैसे रहेंगे