देहरादून: उत्तराखंड में मौसम विभाग द्वारा शुक्रवार को जारी की गई चेतावनी के बाद से ही प्रदेश में लगातार बारिश हो रही है, जिससे लोग परेशान हैं. लगातार हो रही बारिश के कारण तेहरी गड़वाल और देहरादून बॉर्डर के पास भूस्खलन होने की जानकारी मिली है. भूस्खलन होने से वहां की एक झील पहले से ज्यादा बड़ी और गहरी हो गई है. वहीं, हल्द्वानी-नैनीताल मुख्य मार्ग पर ताकुला मोड़ के पास 20 फुट रोड भूस्खलन के कारण धंस गई है. एक तरफ सड़क घंस गई है तो दूसरी तरफ सड़क के 70 फुट हिस्से में दरारें आ गई हैं.

भूस्खलन के कारण ग्रामीणों की फसलें बर्बाद
लगातार हो रही बारिश और कई जगहों पर लैंडस्लाइल राज्य के लोगों के लिए परेशानी बन गई है. कई ग्रामीण इलाकों में सड़कें धंस जाने के कारण शहरों से उनका संपर्क लगभग टूट सा गया है.न्यूज एजेंसी ANI के मुताबिक, उत्तराखंड के कई इलाकों में हो रही लगातार बारिश के कारण भूस्खलन हो गया है. जिसमें गांववालों को उनकी फसलें खोनी पड़ी. वहीं गांववालों का कहना है कि अगर ये ज्यादा बढ़ा तो इससे खतरा हो सकता है. न्यूज एजेंसी से बात करते हुए एक ग्रामीण ने कहा, 'प्रशासन ने हमें चेतावनी दी कि हम इसके पास न जाएं. हमने भूस्खलन में अपनी फसलों को खो दिया है.

बारिश के कारण उत्तराखण्ड में पिछले 48 घंटों में 10 लोगों की मौत हो चुकी है. चमोली जिले के रतगांव में आकाशीय बिजली की चपेट में आकर एक 54 वर्षीय शख्स की मौत हो गई थी. मृतक की पहचान बाद मोहन के रूप में हुई है. बागेश्वर में भारी बारिश के चलते नौ घर क्षतिग्रस्त हो गए. हरिद्वार में भी भारी बारिश हो रही है. जिस वजह से लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है.