टीम इंडिया और इंग्लैंड के बीच पांच मैचों की टेस्ट सीरीज का चौथा मुकाबला साउथम्प्टन के रोज बॉउल मैदान पर खेला जा रहा है. टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए इंग्लैंड की टीम अपनी पहली पारी में 246 रन पर ऑल आउट हो गई. इसके बाद टीम इंडिया चेतेश्वर पुजारा के शानदार शतक की बदौलत पहली पारी में 273 रन बनाने में कामयाब रही. भारत को पहली पारी के आधार पर 27 रनों की बढ़त मिली. जवाब में इंग्लैंड ने अपनी दूसरी पारी में 271 रन बनाए और चौथी पारी में टीम इंडिया के सामने 245 रनों का टारगेट रखा. लक्ष्य का पीछा करते हुए टीम इंडिया ने 4 विकेट गंवा कर 126 रन बना लिए हैं. हार्दिक पंड्या (0 रन) और अजिंक्य रहाणे (44 रन) क्रीज पर हैं.

भारत को पहला झटका स्टुअर्ट ब्रॉड ने दिया जब लोकेश राहुल उनकी गेंद पर बोल्ड हो गए. राहुल खाता भी नहीं खोल पाए. राहुल के बाद एंडरसन ने पुजारा को एलबीडब्ल्यू आउट कर मेहमान टीम को दूसरा झटका दिया. पुजारा 5 रन बनाकर आउट हुए. पुजारा ने डीआरएस का सहारा लिया लेकिन रीप्ले में दिखा कि गेंद बेल्स से टकरा रही है और ‘अंपायर्स काल’ के कारण उन्हें पवेलियन लौटना पड़ा. संभलकर खेल रहे धवन भी ज्यादा देर नहीं टिक सके और एंडरसन की गेंद पर स्टोक्स के हाथों लपके गए. धवन ने 17 रन बनाए.

कप्तान विराट कोहली को अंपायर जोएल विल्सन की संभावित गलती से जीवनदान मिला. तीसरे अंपायर विल्सन ने कोहली को मोईन अली के पारी के 17वें ओवर में नॉटआउट करार दिया जबकि रीप्ले में संभवत: दिख रहा था कि गेंद भारतीय कप्तान के बल्ले से नहीं लगी और लेग स्टंप पर टकरा रही थी. टी-ब्रेक से ठीक पहले कप्तान विराट कोहली को मोईन अली ने कुक के हाथों कैच आउट करा पवेलियन की राह दिखा दी.

इंग्लैंड ने जोस बटलर (69) की अर्धशतकीय पारी के दम पर अपनी दूसरी पारी में 271 रन बनाए और चौथी पारी में टीम इंडिया के सामने 245 रनों का टारगेट रखा. इंग्लैंड के लिए दूसरी पारी में सबसे ज्यादा रन जोस बटलर (69) ने बनाए उनके अलावा, कप्तान जो रूट (48) और सैम कुरेन (46) ने भी अहम योगदान दिया. जेम्स एंडरसन (1) नाबाद रहे.