इंग्लैंड के दिग्गज खिलाड़ी एलिएस्टेर कुक ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास का एलान कर दिया है. कुक भारत के खिलाफ आखिरी टेस्ट मुकाबले के बाद क्रिकेट को हमेशा के लिए अलविदा कह देंगे.

भारत के खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की सीरीज में कुक प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा है. अबतक खेले गए चार टेस्ट मैचों में एक ओपनर बल्लेबाज के तौर कुक टीम को ठोस शुरुआत दिलाने में नाकामयाब रहें. चार मैचों की सात पारियों में कुक ने कुल 109 रन बनाए हैं. ऐसे में उम्मीद है कि करियर के आखिरी टेस्ट में कुक इंग्लैंड के लिए एक यादगार पारी खेलकर क्रिकेट को अलविदा कहे.

एलिएस्टेर कुक इंग्लैंड क्रिकेट टीम के लिए टेस्ट में सबसे अधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं. 12 साल के लंबे करियर में कुक ने 160 टेस्ट मैचों में 12254 रन बनाए हैं जिसमें 56 अर्द्धशतक और 32 शतक लगाए हैं. टेस्ट क्रिकेट में कुक का सार्वधिक स्कोर 294 रनों का है. टेस्ट क्रिकेट में इंग्लैंड के इस पूर्व कप्तान ने सबसे तेज 10,000 रन बनाने का भी रिकॉर्ड अपने नाम कर चुके हैं.

एलिएस्टेर कुक साल 2010 में इंग्लैंड क्रिकेट टीम के कप्तान बने थे. कुक कप्तानी में इंग्लैंड की टीम ने कुल 59 मैच खेली है जिसमें उसे 24 जीत मिली जबकि 22 मैचो में हार का सामना करना पड़ा जबकि 13 मैच ड्रॉ पर छुटे.

कुक 2016 तक इंग्लैंड के कप्तान बने रहे थे. साल 2016 में भारत दौरे पर आई इंग्लैंड की टीम के निराशाजनक प्रदर्शन के बाद उन्होंने कप्तानी छोड़ दी और टीम के साथ बातौर ओपनर बल्लेबाज जुड़े रहे. टेस्ट क्रिकेट में कुक के नाम लगातार 158 टेस्ट मैच खेलने का वर्ल्ड रिकॉर्ड है.

टेस्ट क्रिकेट से पहले कुक ने साल 2014 में वनडे क्रिकेट से संन्यास ले लिया था. 33 साल कुक इंग्लैंड के 92 वनडे मैचों में 77.13 की स्ट्राइक रेट से 3204 रन बनाए हैं जिसमें 19 अर्द्धशतक और पांच शतक शामिल है. वहीं कुक इंग्लैंड के लिए चार टी-20 मैचों में 61 रनों का स्कोर किया है.