पेरिस: अर्जेंटीना के लियोनेल मेसी 12 साल में पहली बार फीफा के बेस्ट प्लेयर की रेस में नहीं होंगे. फीफा ने 2018 में दिए जाने वाले इस अवॉर्ड की फाइनल शॉर्टलिस्ट जारी की है. स्पेनिश क्लब बार्सिलोना के लिए खेलने वाले मेसी इस लिस्ट में शामिल नहीं है. मेसी ने 2017-18 में बार्सिलोना के लिए सबसे अधिक गोल किए और उसे ला लिगा का चैंपियन भी बनाया. वेे 2017-18 के सत्र में यूरोपीय फुटबॉल में सबसे अधिक गोल करने वाले खिलाड़ी भी हैं. 31 साल के मेसी दुनिया मेंं सबसे ज्यादा कमाई करने वाले फुटबॉलर भी हैं.

इस साल दिए जाने वाले फीफा बेस्ट मेंस प्लेयर की शॉर्टलिस्ट में पुर्तगाल के क्रिस्टियानो रोनाल्डो, क्रोएशिया के लुका मोद्रिच और मिस्र के मोहम्मद सालाह शामिल हैं. रोनाल्डो पिछले सेशन में रियल मैड्रिड की टीम में थे, लेकिन अब इटली के युवेंटस के लिए खेलते हैं. मोद्रिच स्पेनिश क्लब रियल मैड्रिड और मोहम्मद सालाह इंग्लिश क्लब लिवरपूल में हैं. रोनाल्डो यह अवॉर्ड पांच बार जीत चुके हैं. मोद्रिच और सालाह को यह अवॉर्ड अब तक एक भी बार नहीं मिला है.

मेसी फीफा के बेस्ट प्लेयर की रेस में 2007 से लगातार 11 साल टॉप-3 में रहे हैं. उन्होंने पांच बार (2009, 2010, 2011, 2012 और 2015) यह अवॉर्ड अपने नाम किया है. उनके प्रतिद्वंद्वी रोनाल्डो भी पांच बार यह अवॉर्ड जी चुके हैं. रोनाल्डो ने ये पांच में से चार अवॉर्ड रियल मैड्रिड (2013, 2014, 2016 और 2017) के लिए खेलते हुए जीते. स्पेनिश फुटबॉल लीग ला लिगा में बार्सिलोना और रियल मैड्रिड की प्रतिद्वंद्विता जगजाहिर है. इन दोनों टीमों के मैच को अल-क्लासिको कहा जाता है.

रोनाल्डो को अगर इस साल बेस्ट प्लेयर का अवॉर्ड मिलता है तो वे मेसी को पीछे छोड़ देंगे. हालांकि, उन्हें अवॉर्ड की इस रेस में मोद्रिच और सालाह से कड़ी टक्कर मिलने वाली है. मोद्रिच ने इस साल वर्ल्ड कप में अपनी टीम को फाइनल में पहुंचाया था. सालाह ने इंग्लिश क्लब में शानदार प्रदर्शन किया था और लिवरपूल को चैंपियंस लीग के फाइनल में पहुंचाया था. जबकि, रोनाल्डो ने रियल मैड्रिड को लगातार तीसरे साल चैंपियंस लीग का चैंपियन बनाया था.