जापान में शक्तिशाली तूफान जेबी ने दस्तक दी है. पिछले 25 साल में यह सबसे शक्तिशाली तूफान है. तेज हवाओं और भारी बारिश को देखते हुए लोगों को एहतियात बरतने की चेतावनी जारी की गई. मंगलवार को देश-विदेश की 600 से ज्यादा उड़ानें रद्द कर दी गईं. तूफान से अबतक 6 लोगों की मौत हो गई है जबकि कई अन्य घायल हुए हैं.

पश्चिमी जापान के लगभग समूचे हिस्से में 216 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से जेबी चक्रवाती तूफान चल रहा है. इस मौसम में प्रशांत के 21वें चक्रवाती तूफान जेबी को जापान मौसम विज्ञान एजेंसी (जेएमए) ने काफी शक्तिशाली बताया है. इस तूफान के कारण शक्तिशाली लहरें, बाढ़ और भूस्खलन के खतरे की चेतावनी समूचे इलाके में जारी की गई है.

प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने लोगों से जल्द से जल्द सुरक्षित स्थान की ओर कूच कर जाने की सलाह दी है. आबे ने अपनी सरकार से आम लोगों को तूफान के कहर से बचाने के लिए सभी जरूरी उपाय करने का निर्देश दिया है.

जापान के सरकारी समाचार चैनल एनएचके के मुताबिक, लोकल ट्रेनों और हाई-स्पीड रेल सेवाओं जैसे कि ओसाका-हिरोशिमा रेल सेवा को अनिश्चितकाल के लिए बंद कर दिया गया है. कुछ कंपनियों ने अपने कर्मचारियों को घर से काम करने की सलाह दी है, ताकि उनके साथ कोई अप्रिय घटना न हो जाए. तूफान प्रभावित इलाकों में स्कूलों को भी बंद कर दिया गया है. मशहूर यूनिवर्सल स्टूडियो ओसाका ने भी अपना कामकाज बंद कर दिया है.

जापान में गर्मी के इस मौसम में अब तक तूफान और तेज बारिश के कारण 200 लोगों की मौत हो चुकी है.