इस्लामाबाद : पाकिस्तान सिंधु नदी के निचले इलाके में स्थित कोटरी बैराज का भारत को निरीक्षण करने देगा. वहीं भारत किशनगंगा योजना सहित झेलम नदी बेसिन पर स्थित पनबिजली परियोजनाओं के विशेष निरीक्षण के इस्लामाबाद के अनुरोध को लेकर सहमत हो गया है. पाकिस्तानी मीडिया में मंगलवार को प्रकाशित एक खबर में कहा गया है कि लाहौर में पिछले सप्ताह आयोजित स्थायी सिंधु आयोग की बैठक में इस आशय का फैसला किया गया. ‘डॉन’ समाचार में प्रकाशित खबर के मुताबिक ‘बैठक में दोनों पक्ष सामान्य निरीक्षण के लिए सहमत हुए.

ऐसा 2014 के बाद से नहीं हो सका है. स्थायी सिंधु आयोग की 29 और 30 अगस्त की हुई बैठक के ब्योरे का हवाला देते हुए खबर में कहा गया है, “सिंधु जल के लिए पाकिस्तानी आयुक्त (पीसीआईडब्ल्यू) सितंबर, 2018 के आखिरी सप्ताह में चेनाब बेसिन का दौरा करेंगे.

इसके बाद सिंधु जल के लिए भारतीय आयुक्त (आईसीआईडब्ल्यू) सिंधु के निचले हिस्से में स्थित कोटरी बैराज का दौरा करेंगे. पाकिस्तान के सिंध प्रांत में जामशोरो और हैदराबाद के बीच सिंधु नदी पर कोटरी बैराज स्थित है.