शहडोल: जब जनता के रक्षक ही भक्षक बन जाए तो सिस्टम का क्या होगा। समाज की बहू-बेटियों की रक्षा कौन करेगा? ऐसा ही एक मामला भिंड से सामने आया है। यहां एक महिला ने थाने के टीआई और एक हवलदार पर उसके साथ थाना परिसर में ही दुष्कर्म करने का आरोप लगाया है। महिला ने एसपी को इसकी लिखित शिकायत दी है।

पीड़ित महिला ने एसपी को लिखित शिकायत देकर आरोप लगाया है कि टीआई जीएस उइके और हवलदार राघवेंद्र सिंह ने थाना परिसर में ही उसके साथ दुष्कर्म किया है। इस घटना के सामने आने के बाद पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया है। आनन-फानन में एसपी कुमार सौरभ ने एसडीओपी को जांच के निर्देश जारी कर दिए हैं।

पीड़िता ने एसपी को बताया कि मारपीट के एक मामले में सीधी पुलिस ने उसके पति को गिरफ्तार किया था। उस रात वह घर पर अकेली थी। तभी दो लोग आए और दुष्कर्म की कोशिश करने लगे। इसी बीच वह रात नौ बजे आरोपियों से चंगुल छूटकर सीधी थाना पहुची।

यहां उसने देखा कि पुलिसवाले लॉकअप में उसके पति को पीट रहे हैं। जब महिला ने इसका विरोध किया तो टीआई और हवलदार उसे दूसरे कमरे में ले गए और दोनों ने बारी-बारी से उसके साथ दुष्कर्म किया। इतना ही दोनों दरिंदो ने महिला को ये बात किसी को भी बताने पर जान से मारने की धमकी दी। फिलहाल महिला की शिकायत पर एसपी ने मामले की जांच के आदेश दे दिए है।