हांगकांग: फिजी में बृहस्पतिवार देर रात 7.8 तीव्रता वाला भूकंप का तेज झटका महसूस किया गया.  हालांकि सुनामी की कोई चेतावनी जारी नहीं की गयी है. अमेरिकी भूगर्भ सर्वेक्षण के मुताबिक भूकंप का केंद्र राजधानी सुवा से 102 किलोमीटर दक्षिणपूर्व में स्थित था. प्रशांत सुनामी चेतावनी केंद्र ने कहा कि भूकंप के अधिकेंद्र की गहराई बहुत अधिक थी, इस कारण सुनामी का कोई खतरा नहीं है. भूकंप का अधिकेंद्र 609 किलोमीटर की गहराई पर था.

इससे पहले भी फिजी में रविवार को 8.2 की तीव्रता वाले भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए. अमेरिकी भूगर्भीय सर्वेक्षण ने बताया कि यहां सुनामी की कोई आशंका नहीं है क्योंकि भूकंप का केंद्र धरती में काफी गहराई पर था. इससे किसी तरह के नुकसान की तत्काल कोई सूचना नहीं है. अमेरिकी भूकंप वैज्ञानिक ने बताया कि भूकंप स्थानीय समयानुसार दोपहर 12 बजकर 19 मिनट पर आया.

इसका केंद्र राजधानी सूवा से 361 किलोमीटर (224 मील) पूर्व में, 559 किलोमीटर की गहराई पर था. हवाई के प्रशांत सुनामी चेतावनी केंद्र ने कहा कि वहां ‘‘सुनामी का कोई खतरा नहीं है क्योंकि भूकंप का केंद्र पृथ्वी में काफी गहराई पर था.’’ बता दें कि शुक्रवार को ही पनामा सीमा के निकट दक्षिणी कोस्टारिका में भूकंप का तेज झटका महसूस किया गया, जिसकी तीव्रता 6.0 मापी गई.

हालांकि भूकंप से जान-माल के नुकसान की कोई सूचना नहीं है. अमेरिकी भूगर्भ सर्वेक्षण ने बताया कि भूकंप की तीव्रता 6.0 मापी गई. इसका अधिकेन्द्र गोल्फिटो शहर से 19 किलोमीटर उत्तर में 19 किलोमीटर की गहराई में था. भूकंप का झटका स्थानीय समयानुसार शुक्रवार को शाम 5:22 बजे महसूस किया गया.

शुक्रवार को दक्षिणी इटली में महज दो घंटे में भूकंप के नौ झटके महसूस किए गए, जिसके डर ने लोगों को अपने घरों के बाहर सोने को मजबूर किया. इटली की राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान एजेंसी आईएनजीवी ने बताया कि कल आठ बजकर 19 मिनट पर 5.1 तीव्रता का भूकंप आया. इस झटके के बाद भूकंप के आठ और झटके महसूस किए गए और इनमें से सबसे तेज झटके की तीव्रता 4.4 थी.