नई दिल्ली: भारत और इंग्लैंड के बीच चल रही टेस्ट सीरीज भारत गंवा चुका है. सीरीज का 5वां और आखिरी टेस्ट लंदन के ओवल में खेला जा रहा है. भले ही इंग्लैंड में भारत सीरीज हार गया हो, लेकिन कमेंट्री बॉक्स में बैठे हरभजन सिंह ने एक बार फिर साबित करके दिखा दिया है कि भारतीय अगर चाहें तो कुछ भी कर सकते हैं. वह 'अंग्रेजों' को अपने इशारों पर भी नचा सकते हैं. दरअसल, हरभजन सिंह  ने कमेंट्री बॉक्स में ब्रिटिश कमेंटेटर डेविड बंबले लॉयड को भांगड़ा करने के लिए मजबूर कर दिया.

हरभजन सिंह इंग्लैंड और भारत के बीच टेस्ट सीरीज में नियमित रूप से कमेंट्री बाक्स में दिखाई पड़ते हैं. स्काई स्पोर्ट्स ब्रॉडकास्ट टीम में शामिल कुछ भारतीय में से एक हरभजन सिंह है. बहुत जल्दी ही हरभजन कमेंट्री बॉक्स में लोकप्रिय हो चुके है और इंग्लिश ब्रॉडकास्टर्स को बाकायदा भांगड़ा तक करा सकते हैं.

हरभजन ने लीजेंड कमेंटेटर डेविड बंबले लॉयड को शुक्रवार को कमेंट्री बॉक्स में ही भांगड़ा कराया. डेविड बंबले लॉयड के भांगड़ा का यह वीडियो सोशल मीडिया पर खूब पसंद भी किया जा रहा है.

.@BumbleCricket does Bhangra - with some help from @harbhajan_singh!

Join us for live coverage of day two of the fifth #EngvInd Test from 10am. D1 highlights: https://t.co/CRm6LBC6dz pic.twitter.com/OevARyxezG

— Sky Sports Cricket (@SkyCricket) September 7, 2018

दरअसल, शिखर धवन के मैदान पर भांगड़ा करने के बाद हरभजन सिंह भी कमेंट्री बॉक्स में भांगड़ा करने लगे थे और उन्हें वहां बैठे अंग्रेज कमेंटेटेर को भी भांगड़ा सिखा दिया.

6⃣ wickets in the final session brought about some happy Indian faces, and lots of Bhangra! 😆

Goodnight! 😀#KyaHogaIssBaar #ENGvIND #SPNSports pic.twitter.com/8ncf7Hvh4T

— SPN- Sports (@SPNSportsIndia) September 7, 2018

बता दें कि हरभजन सिंह 5वें टेस्ट में हनुमा बिहार की प्लेइंग इलेवन में शामिल करने के पक्ष में नहीं थे. उन्होंने कमेंट्री के दौरान कहा, हनुमा को खिलाने से मुझे आश्चर्य हुआ. जबकि आपके पास करुण नायर उपलब्ध था. करुण पहले मैच के बाद से कोई मैच नहीं खेले हैं. वह लगातार टीम इंडिया के साथ हैं. चौथे टेस्ट में हार के बाद उन्हें खिलाया जाना चाहिए था.

हरभजन ने मयंक अग्रवाल को एशिया कप की टीम में शामिल न किए जाने की भी आलोचना की. उन्होंने टि्वटर पर लिखा था- मुझे नहीं पता टीम का चयन कौन कर रहा है, टीम चयन में क्या हो रहा है, मैं नहीं जानता. मैं यह समझने में असफल हूं कि मयंक को वन-डे टीम से भी क्यों बाहर रखा गया. कहीं कुछ तो गलता है. चयन प्रक्रिया, चयन का तरीका या चयनकर्ता.