मोईन अली ने भारत की पहली पारी के दो विकेच चटकाए. जिनमें से एक हनुमा विहारी का और दूसरा इशांत शर्मा का रहा. लेकिन टेस्ट के दूसरे दिन वो एक भी भारतीय बल्लेबाज़ को पवेलियन भेजने में नाकाम रहे थे.

टर्बनेटर हरभजन सिंह इन दिनों कमेंट्री की वजह से इंग्लैंड में मौजूद हैं. खुद हरभजन सिंह ने टीओआई से बातचीत में इस खबर की पुष्टी की.

हरभजन ने बताया कि मोइन उनसे गेंदबाजी के लिए सलाह लेने आए थे. भज्जी ने बताया, 'मोइन ऑफ स्टंप के बाहर रफ एरिया में की गई अपनी गेंदबाजी से संतुष्ट नहीं था, इसलिए उन्होंने मुझसे अपनी गेंदबाजी देखने को कहा.'

हरभजन ने इसके बाद मोईन से कहा कि वो सही गेंदबाजी कर रहे हैं लेकिन रफ को ज्यादा हिट करने की कोशिश करते नज़र आ रहे हैं. भज्जी ने इंग्लैंड के इस ऑल-राउंडर से कहा, ''इस पिच में ज्यादा दरारें नहीं है, इसलिए यहां एक अच्छी पिच पर गेंदबाजी करना ज्यादा जरूरी है.'

साथ ही भज्जी ने बातचीत में ये भी बताया कि मोईन को अपनी गति में काम करने की ज़रूरत है. साथ ही भज्जी ने मोईन को आराम से अपनी गेंदबाजी करने के लिए कहा था.

भज्जी की ये सलाह मोईन के काम भी आई और उन्होंने टेस्ट के तीसरे दिन भारत का सबसे अहम विकेट हनुमा विहारी को आउट किया. साथ ही इशांत का विकेट भी चटकाया.

मोईन अली को इंग्लिश टीम में पहले तीन मैचों में जगह नहीं मिली थी. लेकिन चौथे टेस्ट में भारत को सीरीज़ की हार दिलाने वाली जीत में उन्होंने 9 अहम विकेट चटकाकर अपनी टीम को अजेय बढ़त दिला दी थी.