भारत बंद को अखबार ने भरपूर तरीके से लीड बनाया। इसी तरह सिटी में भी भारत बंद के असर, पैदल मार्च, और रैली निकालते कांग्रेसियों की फोटू के साथ खबर लपक आई। पूरा पेज ही बंद को समर्पित रहा। गरीब रथ के बंद होने वाली खबर ध्यान खींचती है। ढाई हजार शिक्षकों को पेपर बनाने की ट्रेनिंग वाली खबर भी यहां है। सरकारी मेडिकल कालेजों में पैथॉलाजिकल जांचें आउट सोर्स करने वाली खबर ध्यान   खींचती है। सूबे में लेपटाप बांटे तो रिजल्ट अच्छा आने लगा। साथ ही चुनाव आयोग की परीक्षा में फेल अफसरों पे कार्रवाई होने वाली खबर भी भेतरीन रही। सपा के प्रत्याशियों की घोषणा इसी माह होने वाली खबर भी यहां सेट हो गई।