तेलंगाना के जगतियाल जिले में मंगलवार को तेलंगाना राज्य सड़क परिवहन निगम की एक बस के घाटी में गिरने से कम से कम 52 यात्रियों की मौत हो गई और कई अन्य घायल हो गए। मृतकों में अधिकांश महिलाएं हैं।

पुलिस ने बताया कि हैदराबाद से करीब 200 किलोमीटर दूर शानिवारपेट गांव के नजदीक घाट रोड पर बस फिसल कर घाटी में गिर गई। बस में करीब 60 लोग सवार थे। उन्होंने बताया कि घायलों को जगतियाल और पड़ोस के करीमनगर जिले के अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। आईजीपी (उत्तरी जोन) वाई नागी रेड्डी ने बताया कि अब तक 52 लोगों की मौत हुई है। मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है। बस कोंडागट्टू से जगतियाल की ओर जा रही थी।

वहीं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इस हादसे पर दुख व्यक्त किया है। मोदी ने ट्वीट कर कहा कि यह दुर्घटना गहरा दुख पहुंचाने वाली है जिसे शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता। इसमें लोगों की जान गयी है। पीड़ित परिवारों के साथ मेरी संवेदनाएं हैं। मैं घायलों के शीध्र स्वस्त होने की कामना करता हूं।

The bus accident in Telangana’s Jagtial district is shocking beyond words. Anguished by the loss of lives. My thoughts and solidarity with the bereaved families. I pray that the injured recover quickly.

— Narendra Modi (@narendramodi) September 11, 2018

तेलंगाना के कार्यवाहक मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने भी दुर्घटना पर दुख व्यक्त किया और सभी मृतकों के परिवार वाले को पांच-पांच लाख रुपये बतौर आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है। मुख्यमंत्री कार्यालय से जारी बयान में कहा गया कि उन्होंने अधिकारियों से घायलों को तत्काल चिकित्सा सुविधा मुहैया कराने को कहा है।      

राहत और बचाव कार्य का निरीक्षण करने वाले जगतियाल के जिला क्लेक्टर ए शरत ने बताया कि हादसा पौने बारह बजे से 12 बजे के बीच हुआ। दुर्घटना में लोगों के मारे जाने पर दुख व्यक्त करते हुये तेलंगाना प्रदेश कांग्रेस समिति (टीपीसीस) के अध्यक्ष एन उत्तम कुमार रेड्डी ने मृतकों के परिवार को 10-10 लाख रुपये मुआवजा देने की मांग की है।