हैदराबाद: तेलंगाना में जेल विभाग द्वारा आयोजित रोजगार मेले में रिहा किये गए कुल 155 बंदियों को मार्केटिंग एक्जीक्यूटिव और ड्राइवर की नौकरी मिल गयी है।

राज्य सरकार द्वारा आयोजित रोजगार मेला-2018 में फ्लिपकार्ट और एचडीएफसी सहित 12 कंपनियों ने हिस्सा लिया। इसमें 31 जिलों से 230 रिहा किये गए बंदियों (दोषी और विचाराधीन दोनों) ने हिस्सा लिया।

एक आधिकारिक विज्ञप्ति में बताया गया कि 155 लोगों को ड्राइवर, तकनीकी कर्मी, घर का कामकाज देखने वाले, इलेक्ट्रीशियन, मार्केटिंग एक्जीक्यूटिव, हेल्पर और अन्य का काम मिला। जून 2014 में तेलंगाना राज्य के गठन के बाद राज्य जेल विभाग बंदियों के जीवन को बेहतर बनाने के लिए कौशल विकास जैसी कई सारी योजनाएं चला रहा है और बंदियों को कर्ज भी दिया जाता है।

विज्ञप्ति में कहा गया कि रोजगार मेले का मकसद रिहा हुए बंदियों को रोजगार प्रदान करना और यह सुनिश्चित करना है कि वे फिर से अपराध का रास्ता अख्तियार नहीं करें।