मुंबई: सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक आॅफ इंडिया (बीओआई) ने गुरुवार को एक दिन और एक महीने की परिपक्वता अवधि वाले ऋण पर कोष की सीमांत लागत ब्याज दर (एमसीएलआर) को 0.05 प्रतिशत बढ़ाया है। नई दरें 10 अक्टूबर से प्रभावी होंगी।

बैंक ने बयान में कहा कि एक दिन की अवधि के लिए एमसीएलआर को बढ़ाकर 8.05 प्रतिशत किया गया है जबकि एक महीने की अवधि के लिए एमसीएलआर को बढ़कार 8.15 प्रतिशत किया गया है।

बैंक ने तीन महीने, छह महीने तथा एक साल की परिपक्वता अवधि के लिए एमसीएलआर को क्रमश: 8.30 प्रतिशत, 8.50 प्रतिशत, 8.60 प्रतिशत पर अपरिर्वितत रखा है।

देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) समेत कई बैंकों ने हाल ही में एमसीएलआर में वृद्धि की है। एसबीआई ने विभिन्न परिपक्वता अवधि के लिए एमसीएलआर में 0.05 प्रतिशत तक की वृद्धि की थी। इसके अलावा पंजाब नेशनल बैंक, ओरिएंटल बैंक आॅफ कॉमर्स, सिडिकेड बैंक ने भी एमसीएलआर में वृद्धि की है।