कोलकाता: सात बार के पूर्व राष्ट्रीय तैराकी चैम्पियन अरुण कुमार शॉ का लंबी बिमारी के बाद यहां गुरुवार को निधन हो गया। वह 82 वर्ष के थे। बंगाल एमेच्योर तैराकी संघ ने एक बयान जारी कर शॉ के निधन की पुष्टि की है।

शॉ 1967 में अर्जुन पुरस्कार पाने वाले राज्य के पहले तैराकी थे। उन्होंने 1958 में बंगाल टीम के लिए पहला राष्ट्रीय चैम्पियनशिप खिताब जीता था। इसके बाद वह दक्षिण-पूर्व रेलवे से जुड़ गए थे।

उन्होंने इसके अलावा 1959, 1962, 1964, 1965-67 में राष्ट्रीय चैम्पियनशिप का खिताब जीतकर एक नया राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाया था। वह कई वर्षो तक राष्ट्रीय चयनकर्ता भी रहे थे।

बंगाल एमेच्योर तैराकी संघ और भारतीय तैराकी महासंघ ने शॉ के निधन पर शोक व्यक्त किया है और उन्हें अपनी श्रद्धांजलि दी है।