भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच एडिलेड टेस्ट के दूसरे दिन का खेल खेला जा रहा है. ताजा अपडेट तक मेजबान टीम ने 5 विकेट खोकर 120 रन बना लिए हैं. फिलहाल ट्रेविस हेड (17*) और टिम पेन (0*) क्रीज पर हैं. भारत की ओर से आर अश्विन ने 3 , ईशांत शर्मा और जसप्रीत बुमराह ने एक-एक विकेट लिया है. टी-ब्रेक तक ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 4 विकेट खोकर 117 रन था.

टी-ब्रेक के तुरंत बाद जसप्रीत बुमराह ने पीटर हैंडस्कॉम्ब को विकेटकीपर के हाथों कैच आउट करवाया है. हैंडस्कॉम्ब ने 34 रनों की पारी खेली.

इससे पहले पहले दिन 250/9 के स्कोर के बाद टीम इंडिया मैच के दूसरे दिन एक भी रन नहीं जोड़ पाई और 250 के स्कोर पर ही ऑलआउट हो गई. उसके बाद बल्लेबाजी करने उतरी ऑस्ट्रेलियाई टीम को जबरदस्त झटका लगा जब पारी के पहले ओवर की तीसरी गेंद पर ही एरॉन फिंच(0) को ईशांत शर्मा ने बोल्ड कर दिया. उसके बाद ख्वाजा और टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू कर रहे सलामी बल्लेबाज मार्कस हैरिस (26) ने कुछ देर संभलकर खेलने की कोशिश की. दोनों ने 20.4 ओवर में 45 रन जोड़े. आर अश्चिन को 12वें ओवर में गेंद सौंपी गई जिसने हैरिस को परेशान किया. लंच से पहले हैरिस(26) को अश्विन ने सिली प्वाइंट पर लपकवाया. लंच तक ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 57/2 था.

Shot! Marcus Harris goes back down the ground against Ashwin.

Live coverage: https://t.co/lTUqyqRMzW #AUSvIND pic.twitter.com/5qe4aTtkcb

— cricket.com.au (@cricketcomau) December 7, 2018

लंच के बाद भी अश्विन ने अपनी फिरकी का जादू दिखाया और शॉन मार्श को बोल्ड कर दिया. मार्श सिर्फ दो रन बना पाए. इस वक्त ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 59/2 था. इसके बाद ख्वाजा और हैंडस्कॉम्ब ने स्कोर को 87 रनों तक पहुंचाया जहां ऑस्ट्रेलिया को ख्वाजा(28) के रूप में चौथा झटका लगा.

इससे पहले चेतेश्वर पुजारा(123 रन) के शानदार शतक की बदौलत टीम इंडिया ने यहां एडिलेड टेस्ट की पहली पारी में 250 रनों का स्कोर बनाया. पुजारा के अलावा इस पारी में रोहित शर्मा ने 37 रन बनाए. इसके अलावा किसी अन्य खिलाड़ी ने भारत के लिए पहली पारी में कोई खास योगदान नहीं दिया.

पहले दिन गुरुवार का खेल खत्म होने तक नौ विकेट के नुकसान पर 250 रन बनाए थे. मोहम्मद शमी नाबाद थे. दूसरे दिन जसप्रीत बुमराह (0) के साथ भारतीय पारी को आगे बढ़ाने उतरे शमी को जोश हेजलवुड ने टीम के खाते में एक भी रन जोड़ने का मौका नहीं दिया और 250 के स्कोर पर ही विकेट के पीछे खड़े टिम पेन के हाथों कैच आउट करा पवेलियन की राह दिखाई. ऑस्ट्रेलिया के लिए इस पारी में हेजलवुड ने सबसे अधिक तीन विकेट लिए. इसके अलावा, मिचेल स्टार्क, पैट कमिंस और नैथन लॉयन को दो-दो विकेट मिले.