नई दिल्ली : छत्तीसगढ़ सरकार ने वीरवार को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के चार सलाहकारों की नियुक्ति की। सामान्य प्रशासन विभाग ने मंत्रालय से जारी अलग-अलग आदेशों में वरिष्ठ पत्रकार विनोद वर्मा को मुख्यमंत्री के राजनीतिक सलाहकार, प्रदीप शर्मा को योजना, नीति, कृषि और ग्रामीण विकास सलाहकार, राजेश तिवारी को संसदीय सलाहकार और राज्य के एक अन्य वरिष्ठ पत्रकार रूचिर गर्ग को मीडिया सलाहकार नियुक्त किया है।
 
वरिष्ठ पत्रकार विनोद वर्मा मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के काफी करीबी मानें जाते हैं। वह उस समय चर्चा में आए थे जब उन्हें गाजियाबाद से पुलिस ने एक कथित सेक्स सीडी मामले में गिरफ्तार किया था। उस वक्त भूपेश बघेल खुलकर उनके समर्थन में आए थे औऱ उन्होंने सरकार पर विनोद वर्मा को फर्जी मामले में फंसाने का आरोप लगाया था।

वर्मा को भाजपा नेता प्रकाश बजाज की रिपोर्ट पर गिरफ्तार किया गया था। बाद में इस मामले को सीबीआई को सौंप दिया गया। वर्मा पिछले वर्ष दिसंबर महीने में जमानत पर रिहा हो गए थे। विधानसभा चुनाव से पहले वरिष्ठ पत्रकार ने बताया था कि वह कांग्रेस पार्टी के लिए बतौर कंसल्टेंट काम कर रहे थे। उन्होंने कहा था कि मेरे काम करने से भाजपा के अंदर तिलमिलाहट है। वहीं मुख्यमंत्री बघेल के मीडिया सलाहकार रूचिर गर्ग ने चुनाव से पहले हिंदी दैनिक 'नवभारत' के संपादक पद से इस्तीफा देकर कांग्रेस प्रवेश किया था।